अखिलेश को मात देने को अरुण जेटली की शरण में गये अमर सिंह

अमर सिंह और अरुण जेटली की पुरानी फोटो।

समाजवादी पार्टी में चल रहा युद्ध अभी थमने वाला नहीं है। स्वयं को घोर अपमानित महसूस कर रहे अमर सिंह अरुण जेटली की शरण में चले गये हैं। उच्चपदस्थ सूत्रों का कहना है कि अमर सिंह ने व्यक्तिगत तौर पर अरुण जेटली से मदद मांगी है और अरुण जेटली ने उन्हें आश्वस्त भी किया है, जिससे मुलायम सिंह यादव ने कानूनी पक्ष मजबूत करने की तैयारी शुरू कर दी है।

उल्लेखनीय है कि लखनऊ स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क में रविवार की सुबह आयोजित किये गये सपा के आपातकालीन राष्ट्रीय प्रतिनिधि सम्मेलन में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए अखिलेश यादव को सर्वसम्मति से चुन लिया गया, साथ ही प्रदेश अध्यक्ष पद से शिवपाल सिंह यादव को हटाते हुए अमर सिंह को पार्टी से बाहर कर दिया गया।

विधायक और कार्यकारिणी के सदस्य अखिलेश यादव के साथ चले जाने से मुलायम, शिवपाल और अमर सिंह अकेले पड़ गये। बताते हैं कि फजीहत से बचने के लिए मुलायम मौन रहने की कह रहे थे, लेकिन पूरे घटनाक्रम में सर्वाधिक अपमान अमर सिंह का ही हुआ है, इसलिए वे व्यक्तिगत तौर पर जुट गये। उच्चपदस्थ सूत्रों का कहना है कि बाजी हाथ से निकलती देख अमर सिंह मदद के लिए अरुण जेटली की शरण में चले गये हैं और उनसे चुनाव आयोग में यह दबाव बनवाने की गुहार लगाई है कि अखिलेश यादव के पक्ष में हुए प्रस्ताव को मान्यता न मिले।

उच्चपदस्थ सूत्रों का कहना है कि अरुण जेटली ने अमर सिंह को मदद करने के लिए आश्वस्त कर दिया, तो अमर सिंह ने मुलायम सिंह यादव से कानूनी लड़ाई में अखिलेश को फंसाने के लिए अगली कार्रवाई कराई है। मुलायम ने अपना कानूनी पलड़ा भारी करने के उदेश्य से अमर-शिवपाल के दबाव में प्रो. रामगोपाल यादव को पिछली तिथि में ही निष्कासित कर दिया है, साथ ही अखिलेश को भी निष्कासित दर्शाया जा रहा है, इसी क्रम में अखिलेश यादव के पक्ष में हुए अधिवेशन को मुलायम ने फर्जी करार देते हुए 5 जनवरी को संसदीय बोर्ड की बैठक आमंत्रित की है।

उधर मुलायम सिंह यादव ने किरनमय नंदा और नरेश अग्रवाल को पार्टी से निष्कासित कर दिया और इधर नव-नियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नरेश उत्तम को उत्तर प्रदेश का पार्टी अध्यक्ष बनाया है, वहीं विवाद के चलते पार्टी कार्यालय सीज कर दिया गया है। अखिलेश ने आशु मलिक की सुरक्षा भी हटा दी है।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

मुलायम-शिवपाल पदच्युत, अमर सिंह बहार, अखिलेश चुने गये राष्ट्रीय अध्यक्ष

मुलायम ने की बड़ी गलती, अखिलेश बनेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष

पदच्युत होने के भय से मुलायम-शिवपाल का समर्पण, अखिलेश बने सर्वमान्य नेता

रविवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जायेंगे अखिलेश यादव

गौतम संदेश की मोबाईल एप लांच, अपडेट रहने के लिए तत्काल करें इन्स्टॉल

Leave a Reply

Your email address will not be published.