नूरुद्दीन की मानसिक स्थिति गड़बड़ाई, बोले- गौतम संदेश बनवायेगा पुलिया

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रांतीय सदस्य सलमान हैदर नकवी और कार्यक्रम में चीखते नूरुद्दीन।

बदायूं जिले की नगर पालिका सहसवान में हिंदुस्तान अखबार ने एक कार्यक्रम आयोजित किया, जिसमें ऐसे लोगों को ही शहंशाह बना दिया गया, जिनसे स्थानीय जनता त्रस्त है, इसलिए कार्यक्रम निरर्थक साबित हुआ। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रांतीय सदस्य सलमान हैदर नकवी ने कह भी दिया कि भविष्य में कभी ऐसा कार्यक्रम आयोजित किया जाये, जिला स्तरीय अफसर आमंत्रित किये जायें।

आम जनता सड़क, बिजली, पानी, दवा, शिक्षा, सफाई और सुरक्षा जैसी समस्याओं से ग्रस्त रहती है, इन समस्याओं के लिए स्थानीय स्तर पर तैनात कर्मचारी-अधिकारी और चेयरमैन ही जिम्मेदार होते हैं और हिंदुस्तान अखबार ने इन सबको ही शहंशाह बना दिया। कार्यक्रम में चेयरमैन, कोतवाल, एडीओ, डॉक्टर और नायब तहसीलदार स्तर के लोग मौजूद रहे। लोगों ने सवाल किये, तो उन्हें संतोषजनक उत्तर नहीं दिए गये, यह सब देख कर भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रांतीय सदस्य सलमान हैदर नकवी को अच्छा नहीं लगा। उन्होंने कहा कि कोतवाली आज भी सपा का कार्यालय बनी हुई है, तो उन्हें भी रोका गया और सवाल करने को कहा गया, तो श्री नकवी ने टूटी पुलिया न बनाने का कारण पूछा, इस पर चेयरमैन नूरुद्दीन ने जवाब दिया कि गौतम संदेश बनवायेगा, साथ ही कहा कि गौतम संदेश उनकी जान कर छवि खराब कर रहा है, उनके विरुद्ध निरंतर खबरें प्रकाशित कर रहा है। श्री नकवी ने सही जवाब देने को कहा, तो चेयरमैन ने सवाल टालने को बोल दिया कि नियम से बनवाई जायेगी। श्री नकवी ने कब्रिस्तानों और चकरोडों पर अवैध कब्जों के अलावा खाईवाड़ी का मुद्दा उठाया। उन्होंने सवाल पूछा कि कल खाईवाड़ी करने वाले पकड़ कर क्यों छोड़ दिए, तो कोतवाल जवाब नहीं दे पाये, इस पर श्री नकवी ने कहा कि भविष्य में कार्यक्रम हो, तो कम से कम एडीएम और एएसपी स्तर के अफसर होने चाहिए, क्योंकि इन सब लोगों की शिकायत किस से की जाये?

उल्लेखनीय है कि गौतम संदेश ने सहसवान में हुए शीतल प्याऊ घोटाला, सही सड़कों को उखड़वा कर उनके निर्माण के नाम पर घोटाला और सफाई का फर्जी टेंडर निकालने के घोटाले का खुलासा किया था, इस सबमें अधिशासी अधिकारी संजय तिवारी को चेयरमैन नूरुद्दीन का बराबर का सहभागी बताया जा रहा है। सहसवान नगर पालिका में भ्रष्टाचार को रोकने के उद्देश्य से अधिशासी अधिकारी अशोक गोयल को तैनात कर दिया गया है, इससे चेयरमैन नूरुद्दीन की मानसिक स्थिति गड़बड़ा गई है। चूँकि नूरुद्दीन ने गौतम संदेश पर सैकड़ों लोगों के सामने आरोप लगाया, तो गौतम संदेश ने छानबीन की। नूरुद्दीन पर कोतवाली सहसवान में ही गंभीर धाराओं के अंतर्गत मुकदमे दर्ज हो चुके हैं, जिनमें चोरी तक का मुकदमा दर्ज है।

कोतवाली सहसवान में दर्ज मुकदमों की सूची।

इसके अलावा जिला संभल की कोतवाली गुन्नौर क्षेत्र के गाँव सैमल करनपुर का निवासी दलित नत्थूराम पुत्र मदनलाल अपहरण करने का, अफीम का धंधा करने का, नाबालिग लड़कियों और औरतों का यौन शोषण कराने का आरोप लगा चुका है, यह प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। गत गुरूवार को नूरुद्दीन के बेटे जमालुद्दीन के पेट्रोल पंप जैद फीलिंग स्टेशन पर एसडीएम दिनेश कुमार और सीओ श्योराज सिंह के नेतृत्व में छापा मारा गया, तो जांच में दो मशीनें संदिग्ध पाई गईं थीं, जिन्हें सील कर दिया गया है। कई मुकदमे दर्ज हैं, जो पुलिस जाँच में भी सही पाये गये हैं, इसके बावजूद नूरुद्दीन छवि की बात कर रहे हैं। यह भी बता दें कि नूरुद्दीन के विरुद्ध एक हिंदी दैनिक अखबार ने पिछले सप्ताह एक खबर प्रकाशित कर दी थी, जिस पर उस पत्रकार से संस्थान द्वारा स्पष्टीकरण माँगा गया, ऐसे नूरुद्दीन के कारनामों का खुलासा जब गौतम संदेश ने किया, तो उनकी मानसिक स्थिति गड़बड़ा जाना स्वाभाविक ही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

कुख्यात नूरुद्दीन का नूर गायब होते ही सहसवान का अधिशासी अधिकारी बदला

जमीन कब्जाने, अपरहरण, अफीम और देह व्यापार का भी धंधा करता है नूरुद्दीन

Leave a Reply