खुटार में बवाल, लखनऊ में उबाल, सीएम बोले- धैर्य रखो

लखनऊ में धरना देते पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता और अधिवक्ता।
लखनऊ में धरना देते पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता और अधिवक्ता।

शाहजहांपुर के पत्रकार जगेंद्र हत्याकांड में फॉरेंसिक जांच कार्यवाई लगभग पूरी हो गई है। मृतक के परिजनों का धरना आज भी जारी रहा, जहां आज बवाल होते-होते बच गया, वहीं आज इस घटना को लेकर लखनऊ में भी उबाल रहा, साथ ही इस हाईप्रोफाइल घटना में लापरवाही बरतने के चलते एलआईयू अफसर का तबादला भी कर दिया गया है।

जगेन्द्र हत्याकांड पर सरकार की कड़ाई के चलते डीजीपी की सीधी नजर है, जिससे फॉरेंसिक जांच बड़ी तेजी से हुई हैं और लगभग कार्यवाही पूरी हो चुकी है, लेकिन सरकार मृतक आश्रितों और आंदोलनरत पत्रकारों की मांग मानने को अभी तक तैयार नहीं हुई है, जिससे धरना प्रदर्शन जारी है। कस्बा खुटार में धरने पर बैठे परिजनों के पास आज फैसले का प्रस्ताव लेकर दो लोग पहुंच गये, जिस पर परिजन भड़क गये। हाथापाई की नौबत आ गई, लेकिन दोनों लोगों को किसी तरह मौके पर मौजूद पुलिस ने बचा लिया और वहां से भगा दिया।

लखनऊ में भी आज गर्माहट रही। पत्रकार, वकील और सामाजिक कार्यकर्ताओं के अलावा क्षत्रिय महासभा ने भी धरना प्रदर्शन कर सरकार से मांगें पूरी करने को कहा। इसके अलावा प्रदेश के अन्य तमाम जनपदों में भी धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया गया। हरदोई के पत्रकार विजय पांडेय के विरुद्ध फर्जी मुकदमा लिखाने का भी प्रकरण आज छाया रहा।

उधर हाईप्रोफाइल घटना में एलआईयू इंस्पेक्टर अभयराम यादव की लापरवाही प्रकाश में आई है, जिससे उनका तबादला फतेहपुर कर दिया गया है, लेकिन सोशल साइट्स पर पत्रकारों को खुलेआम धमकाने वाले नामजद आरोपी अमित प्रताप सिंह भदौरिया के विरुद्ध शाहजहांपुर पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। राज्यमंत्री राममूर्ति वर्मा के चलते पुलिस ने अन्य आरोपियों को भी खुली छूट दे रखी है, वहीं इस घटना को लेकर लखनऊ में आज मुख्यमंत्री ने फिर स्पष्ट कर दिया कि जांच के बाद जो भी दोषी पाया जायेगा, उसे छोड़ा नहीं जायेगा। पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कहा कि थोड़ा धैर्य रखिये।

जगेन्द्र हत्याकांड व विजय पांडेय से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

नामजद पत्रकारों को धमका रहे, महिला को पुलिस ने दी सुरक्षा

हत्या और आत्म हत्या से बड़ी घटना है जगेन्द्र की मौत

खुलासा: पत्रकार जगेन्द्र पर आत्म हत्या करने का मुकदमा दर्ज

पीसीआई की खोजी टीम पर उठे सवाल, धरना-प्रदर्शन जारी

उच्च न्यायालय ने तलब की जगेन्द्र हत्या कांड की जांच रिपोर्ट

कल शाहजहाँपुर जायेगी पीसीआई की टीम, धरना प्रदर्शन जारी

पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड की याचिका पर मंगलवार को होगी सुनवाई

दिवंगत पत्रकार जगेन्द्र के परिजन घर के सामने धरने पर बैठे

मीडिया को कठघरे में खड़ा कर रही है आरोपियों की सरकार

राममूर्ति मंत्रिमंडल में बरकरार, पुलिस कर्मी निलंबित

प्रदेश में कायम गुंडाराज पर प्रो. रामगोपाल यादव की मोहर

पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर

पत्रकारों के लिए पूरी तरह असुरक्षित जिला है शाहजहाँपुर

जगेन्द्र के आश्रितों को सरकार नहीं देगी आर्थिक सहायता

राममूर्ति को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर जेल भेजें मुख्यमंत्री

राज्यमंत्री व कोतवाल पर पत्रकार की हत्या का मुकदमा दर्ज

माफिया के दबाव में शाहजहांपुर पुलिस ने पत्रकार को फंसाया

अब हरदोई के शहंशाह नरेश अग्रवाल का शिकार बना पत्रकार

Leave a Reply