उच्च न्यायालय ने तलब की जगेन्द्र हत्या कांड की जांच रिपोर्ट

जिला खीरी में एसडीएम को ज्ञापन देते पत्रकार।
जिला खीरी में एसडीएम को ज्ञापन देते पत्रकार।

शाहजहाँपुर के पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड के प्रकरण में देश भर के पत्रकारों के लिए थोड़ी सी राहत देने वाली खबर है। पत्रकारों की दुआयें और लखनऊ के अधिवक्ता प्रिंस लेनिन की मेहनत सफल होती नजर आ रही है। उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने जनहित याचिका को न सिर्फ स्वीकार किया, बल्कि घटना को गंभीरता से लेते हुए सरकार से अब तक की जाँच की रिपोर्ट तलब की है। अगली सुनवाई अब 24 जून को होगी।

शाहजहाँपुर के पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड में लखनऊ के अधिवक्ता प्रिंस लेनिन ने चार दिन पूर्व उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ में जनहित याचिका दायर की थी और न्यायालय से मांग की थी कि पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड की सीबीआई जाँच कराई जाये, साथ ही जगेन्द्र के आश्रितों को आर्थिक सहायता दी जाये, पर मुकदमों की संख्या अधिक होने कारण मंगलवार को सुनवाई नहीं हो सकी। याचिका पर आज सुनवाई हुई। हालाँकि कई तरह की अड़चनें डालने के प्रयास किये गये, पर लंच के बाद बहस हुई, तो न्यायालय ने घटना को गंभीरता से लेते हुए सरकार से अब तक की जाँच की रिपोर्ट तलब की है। अगली सुनवाई अब 24 जून को होगी।

उधर आज मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कहा कि सरकार किसी के साथ अन्याय नहीं होने देगी। जगेन्द्र हत्या कांड के संबंध में बहराइच में पत्रकारों के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि जांच हो रही है, आप लोग धैर्य रखें, वहीं दोषियों की गिरफ्तारी और मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की मांग को लेकर आज भी प्रदेश भर में धरना प्रदर्शन का दौर जारी रहा।

पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

कल शाहजहाँपुर जायेगी पीसीआई की टीम, धरना प्रदर्शन जारी

पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड की याचिका पर मंगलवार को होगी सुनवाई

दिवंगत पत्रकार जगेन्द्र के परिजन घर के सामने धरने पर बैठे

मीडिया को कठघरे में खड़ा कर रही है आरोपियों की सरकार

राममूर्ति मंत्रिमंडल में बरकरार, पुलिस कर्मी निलंबित

प्रदेश में कायम गुंडाराज पर प्रो. रामगोपाल यादव की मोहर

पत्रकार जगेन्द्र हत्या कांड को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर

पत्रकारों के लिए पूरी तरह असुरक्षित जिला है शाहजहाँपुर

जगेन्द्र के आश्रितों को सरकार नहीं देगी आर्थिक सहायता

राममूर्ति को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर जेल भेजें मुख्यमंत्री

राज्यमंत्री व कोतवाल पर पत्रकार की हत्या का मुकदमा दर्ज

माफिया के दबाव में शाहजहांपुर पुलिस ने पत्रकार को फंसाया

Leave a Reply