माया, मीरा और धर्मेन्द्र पीड़ितों से मिले, कल आयेंगे पासवान

पीड़ित परिवार के परिजनों से बात करतीं बसपा सुप्रीमो मायावती।
पीड़ित परिवार के परिजनों से बात करतीं बसपा सुप्रीमो मायावती।

बदायूं के कटरा सआदतगंज की दुस्साहसिक चर्चित घटना के बाद पीड़ित परिजनों को सांत्वना देने का क्रम जारी है। रविवार को बसपा सुप्रीमो मायावती, लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार और सांसद धर्मेन्द्र यादव पीड़ित परिजनों से मिले। सोमवार को केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान आ सकते हैं।

कटरा सआदतगंज पहुंच कर बसपा सुप्रीमो मायावती ने सपा सरकार पर जोरदार हमला बोला और सरकार की बर्खास्तगी की मांग की। उन्होंने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के चुनाव के दौरान दिए विवादित बयान को बलात्कार का प्रमुख कारण बताते हुए कहा कि खुलेआम पक्ष लेने से ही दुष्कर्मियों के हौंसले बढ़े हैं। एक बिरादरी के अपराधियों को बचाने की कोशिशों से जनता में दहशत बढ़ी है, साथ ही प्रदेश में जंगल राज कायम है। बोलीं- अधिकारियों को बदलने की बजाये, अपराधिक तत्वों पर शिकंजा कसने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उनके बदायूं दौरे से घबराई सरकार सीबीआई से जांच के लिए तैयार हुई। पीड़ित परिवार को उन्होंने पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की भी घोषणा करते हुए स्वामी प्रसाद मौर्य से कहा कि वह पार्टी कार्यालय से रूपये लाकर पीड़ितों को दें।

पीड़ित परिवार के परिजनों से बात करतीं मीरा कुमार।
पीड़ित परिवार के परिजनों से बात करतीं मीरा कुमार।

इस दौरान क्षेत्रीय सीओ पूनम सिरोही उनके निशाने पर आ गईं और डांटते हुए चेतावनी दी कि अगर, पीड़ितों के साथ भविष्य में कोई वारदात हुई, तो वे यहीं आकर धरने पर बैठ जायेंगी। उधर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि अपराधियों की गिरफ्तारी और मामले की सीबीआई जांच के आदेश के बाद मायावती की बदायूं यात्रा नौटंकी से अधिक कुछ नहीं है।

घटना स्थल पर उस पेड़ को देखते सांसद धर्मेन्द्र यादव, जिस पर दोनों बहनों के शव लटके मिले।
घटना स्थल पर उस पेड़ को देखते सांसद धर्मेन्द्र यादव, जिस पर दोनों बहनों के शव लटके मिले।

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार भी घटना स्थल पर गईं और उन्होंने घटना को दुर्भाग्य पूर्ण बताते हुए पीड़ितों को न्याय दिलाने की वकालत की, इससे पहले बदायूं लोकसभा क्षेत्र के सांसद व मुख्यमंत्री के अनुज धर्मेन्द्र यादव भी पीड़ितों से मिले और सरकार की ओर न्याय पूर्ण कार्रवाई का पीड़ितों को विश्वास दिलाने का प्रयास किया।

राजनेताओं ने घटना को जातीय रंग दे दिया है, तभी एक के बाद एक नेता आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार को केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी घटना स्थल पर जाकर पीड़ितों से मिलेंगे।

संबंधित खबर व लेख पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

अगवा कर दुष्कर्म के बाद यादवों पर बहनों की हत्या का आरोप

पीएमओ के हस्तक्षेप के बाद सक्रिय हुई उत्तर प्रदेश सरकार

बदायूं प्रकरण: पीड़ितों को न्याय मिलना चाहिए: राहुल गांधी

कटरा सआदतगंज में सदियों याद की जाती रहेगी यह घटना

Leave a Reply