मतदान केन्द्रों के बाहर बवाल, पूर्व विधायक को बनाया बंधक, गाड़ी तोड़ी

सपा प्रत्याशी के बिस्तर को तहस-नहस करते भाजपाई।
बदायूं जिले के छः विधान सभा क्षेत्रों में 61 प्रतिशत मतदान हुआ। एक स्थान पर ईवीएम खराब होने से मतदान देर से शुरू हो सका, वहीं गाँव फिरोजपुर में मतदान का बहिष्कार किया गया, साथ ही कई जगह मतदान केन्द्रों के बाहर बवाल भी हुआ। गाँव कालूपुर में भाजपा प्रत्याशी के पिता पूर्व विधायक योगेन्द्र सागर को बंधक बना लिया गया।
जिले भर में सुबह निर्धारित समयानुसार मतदान शुरू हो गया, लेकिन कस्बा इस्लामनगर के बूथ संख्या- 19 पर ईवीएम खराब होने से मतदान प्रक्रिया बाधित रही। सहसवान विधान सभा क्षेत्र के गाँव फिरोजपुर में तहसील बदलने की मांग को लेकर मतदान का बहिष्कार किया गया, जो शाम तक जारी रहा, यहाँ मात्र एक वोट पड़ा। मतदाताओं का हौसला बढ़ाने के लिए डीईओ पवन कुमार एसएसपी महेंद्र सिंह यादव के साथ जिले भर में भ्रमण करते रहे, वे बदायूं शहर के अलावा नवादा, वजीरगंज, बिसौली, फैजगंज बेहटा, नूरपुर पिनौनी, इस्लामनगर, नाधा, सहसवान, उझानी सहित अन्य तमाम स्थानों पर चुनाव प्रक्रिया का निरीक्षण करते रहे, साथ ही जिले भर की पल-पल की जानकारी फोन पर भी लेते रहे और मोबाइल पर प्राप्त होने वाली शिकायतों का सम्बंधित अधिकारियों से त्वरित निस्तारण कराते रहे।
प्रशासन की चुस्ती के चलते मतदान प्रक्रिया तो बाधित नहीं हुई, लेकिन कई जगह मतदान केन्द्रों के बाहर बड़ा बवाल हो गया। बदायूं के इस्लामियां इंटर कॉलेज के बूथ पर फर्जी वोट डालने को लेकर पथराव हो गया एवं आक्रोशित भाजपाईयों ने सपा प्रत्याशी के बिस्तर को तहस-नहस कर दिया, वहां खड़ी एक बाइक को भी तोड़ दिया, इसी तरह एसके इंटर कॉलेज पर भी शाम को हंगामा हो गया एवं छः सड़का पर भी पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। कादरिया स्कूल पर सपा प्रत्याशी आबिद रजा की पत्नी पालिकाध्यक्ष फात्मा रजा एक दर्जन औरतों के वोट डलवाने साढ़े चार बजे के बाद पहुंच गईं, जिससे यहाँ भी कुछ देर गहमा-गहमी का माहौल बना रहा, लेकिन प्रशासन ने सख्ती से उन्हें वहां से हटा दिया, इसी तरह कबूलपूरा रवन्ना के बूथ पर सपाईयों ने भाजपाईयों के साथ मारपीट कर दी, जिससे हंगामा होता रहा।
बिसौली विधान सभा क्षेत्र के गाँव कालूपुर में बड़ी घटना हो गई, यहाँ भाजपा प्रत्याशी कुशाग्र सागर के पिता पूर्व विधायक योगेन्द्र सागर को सपाईयों ने बंधक बना लिया, उन पर जानलेवा हमला किया गया एवं उनकी गाड़ी क्षति ग्रस्त कर दी गई। पुलिस ने बमुश्किल उन्हें वहां से मुक्त कराया। योगेन्द्र सागर का कहना है कि सपा प्रत्याशी आशुतोष मौर्य वहां मौजूद थे और साढ़े पांच बजे फर्जी मतदान करा रहे थे, साथ ही उनके कहने पर ही हमला हुआ, वहीं आशुतोष मौर्य का कहना है कि योगेन्द्र सागर न एजेंट हैं और न उस गाँव के निवासी हैं, वे बूथ कैप्चरिंग करने के इरादे से गये थे, जिसे ग्रामीणों ने विफल कर दिया, इस घटना पर पुलिस का कहना है कि हंगामे से पहले ईवीएम सील हो चुकी थीं।
पूर्व विधायक योगेन्द्र सागर की क्षति ग्रस्त गाड़ी।
लाइन में लगे मतदाताओं को बधाई देते डीईओ पवन कुमार।

शेखूपुर विधान सभा क्षेत्र के कस्बा ककराला में भी हंगामा हुआ, यहाँ एक पूर्व विधायक द्वारा मतदाताओं को धमकाया गया, जिसकी शिकायत पर पुलिस ने उन्हें दौड़ा लिया। बाद में कुछ लोगों के साथ मारपीट भी की गई, जिससे स्थिति तनावपूर्ण बनी रही।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

फिरोजपुर और गंगागढ़ में मतदान का बहिष्कार, प्रशासन में हड़कंप

Leave a Reply

Your email address will not be published.