शिक्षक दिवस पर छात्र-छात्राओं ने शिक्षकों को खिलाये गेम

दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का शुभारंभ करतीं पम्मी मेंहदीरत्ता।
दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का शुभारंभ करतीं पम्मी मेंहदीरत्ता।

बदायूं के ब्लूमिंगडेल स्कूल परिसर में शिक्षक दिवस हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का आगाज मुख्य अतिथि ज्योति मेंहदीरत्ता, पम्मी मेंहदीरत्ता, ईषान मेंहदीरत्ता और अनीता धमीजा के कर-कमलों द्वारा किया गया। सर्व प्रथम माँ सरस्वती एवं सर्वपल्ली डॉ. राधाकृष्णन के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर किया गया। छात्र-छात्राओं ने सभी शिक्षक-शिक्षकाओं का स्वागत किया।

इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने शिक्षकों के सम्मान में अनेक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। शिक्षकों के रूप में छात्रों ने कक्षाओं को संभालने का प्रयास किया, जिसमें वे काफी हद तक खरे भी उतरे। सांस्कृतिक कार्यक्रम की श्रृंखला में बच्चों ने काव्यपाठ, गीत और नृत्य प्रस्तुत किये। कार्यक्रम का विशेष आकर्षण बच्चों द्वारा शिक्षकों को खिलाये जाने वाले गेम्स रहे, जिसमें सभी अध्यापकों ने भाग लिया और खेलों का भरपूर आनंद उठाया। बच्चों ने शिक्षकों को अपने हाथों से बनाए सुन्दर कार्ड भी भेंट किये।

प्रधानाचार्या वन्दना सक्सेना ने छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि व्यक्ति के जीवन में गुरू का बड़ा महत्व है, उन्होंने शिक्षक दिवस को मनाए जाने का कारण बताते हुए महान प्रणेता व हमारे देश के राष्ट्रपति रहे डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन पर प्रकाश डाला एवं सदैव उनके बताए पथ पर चलने के लिए प्रेरित किया।

अध्यक्षा पम्मी मेंहदीरत्ता ने सभी शिक्षकों को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ देते हुए छात्रों के भविष्य को संवारने एवं अतीत व वर्तमान के परिपेक्ष्य में छात्रों व शिक्षकों की भूमिका पर प्रकाश डाला, साथ ही शिक्षकों का आदर-सम्मान करते रहने के लिए छात्र-छात्राओं को प्रेरित किया। कार्यक्रम का विशेष आकर्षण लकी ड्रा रहा, जिसमें मीता सूरी व प्रदीप बत्रा का किस्मत ने साथ दिया, उन्हें विजयी घोषित करते हुए पुरस्कृत भी किया गया।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

सांसद की चापलूसी में जुटे बाबू ने रुकवा दी सरस्वती वंदना

Leave a Reply