डीएम के निर्देश का असर, सोत नदी की जमीन का किया सर्वे

सोत नदी की जमीन का सर्वे करती तहसील स्तरीय टीम।
सोत नदी की जमीन का सर्वे करती तहसील स्तरीय टीम।

बदायूं के तेजतर्रार जिलाधिकारी पवन कुमार के दिशा-निर्देशों का असर दिखने लगा है। भू-माफियाओं के चंगुल से अब सोत नदी मुक्त हो सकती है। सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में आज तहसील स्तरीय टीम ने सोत नदी के आसपास की जमीन का सर्वे किया।

उल्लेखनीय है कि गुरूवार को तेजतर्रार जिलाधिकारी पवन कुमार ने बैठक में अफसरों को सोत नदी कब्जा मुक्त कराने के कड़े निर्देश दिए थे। जिलाधिकारी ने कहा था कि पुलिस बल ले जाकर जेसीबी से अवैध निर्माण ढहा दिया जाये। जिलाधिकारी के निर्देश पर अफसरों ने कार्रवाई शुरू कर दी है। सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में आज तहसील स्तरीय टीम सोत नदी पर अवैध कब्जे का सर्वे करने पहुंची। टीम ने अवैध कब्जों वाले स्थानों पर चिन्ह भी लगाये। बताया जा रहा है कि टीम अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी को देगी, उसके बाद अग्रिम कार्रवाई होगी। सूत्रों का यह भी कहना है कि तहसील स्तरीय अफसर बड़े भू-माफियाओं से मिले हुए हैं, ऐसे में वे बड़े माफियाओं को बचा भी सकते हैं, इसलिए जिलाधिकारी को तहसील स्तरीय टीम की रिपोर्ट का परीक्षण भी कराना होगा।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

सोत नदी में बने भवन फोर्स ले जाकर जेसीबी से गिराओ: डीएम

आदर्शवादी आबिद के सोत नदी में हो रहे अवैध निर्माण पर रोक

Leave a Reply