चुटिया कटने से सदमे में हैं मेराज, जायदा, निशा, रचना, सरोज और पूनम

बदायूं जिले में अब चुटिया कटने की अफवाह और उसकी दहशत बड़े स्तर पर फैल गई है। हालात भयावह हो चले हैं, महिलायें रात होने की कल्पना से ही डरने लगी हैं। हालाँकि घटनायें दिन में ही ज्यादा हो रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र ही नहीं, बल्कि मुख्यालय पर भी घटनायें सामने आ रही हैं, यह चिंता की और बड़ी बात है।

गुरूवार को बिसौली कोतवाली क्षेत्र में दो महिलाओं की चुटिया काटी गई, लेकिन अधिकांश लोग घटना को फर्जी ही करार दे रहे थे, पर आज अलग-अलग क्षेत्रों में पांच महिलायें शिकार हुई हैं। सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला कबूलपुरा में मेराज पत्नी मोहम्मद हसन, थाना वजीरगंज के गाँव उरैना में निशा पुत्री मुन्ने, इसी थाना क्षेत्र के गाँव रहड़िया में रचना पुत्री वीरेश, मुजरिया थाना क्षेत्र के गाँव ज्योरा पारवाला में सरोज पुत्री भूप सिंह, कुंवरगाँव थाना क्षेत्र के गाँव मेंहदी नगर में जायदा बेगम पत्नी शाकिर अली और थाना इस्लामनगर क्षेत्र के गाँव विक्रमपुर चरसौरा में पूनम पुत्री ओमपाल की चुटिया काटे जाने की वारदातें सामने आई हैं। शिकार महिलायें और लड़कियां सदमे में हैं, वहीं परिजन और आसपास के लोग भी चकित हैं। वारदातों के पीछे की कहानी किसी की समझ में नहीं आ रही है। सवाल यह भी है कि मानसिक रोग अचानक इस हद तक अलग-अलग क्षेत्रों में कैसे फैल सकता है? वारदात की शिकार महिलायें और लड़कियाँ सामान्य व्यवहार करने वाली हैं, ऐसे में उन्हें अचानक मनोरोगी भी करार नहीं दिया जा सकता। अधिकाँश पीड़ितों का यह भी कहना है कि चुटिया कटने से पहले उन्हें शक्तिशाली काली बिल्ली पास होने का अहसास हुआ।

घटनायें पुलिस-प्रशासन के संज्ञान में भी हैं, लेकिन इन घटनाओं में उसकी क्या भूमिका हो सकती है, यह भी समझ नहीं आ रहा है। कारण जो भी हों, पर घटनायें हो रही हैं, जिसकी अफवाह और दहशत से महिलाओं का बुरा हाल है, जिसे रोकने के लिए पुलिस-प्रशासन को ही मोर्चा लेना पड़ेगा।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: महिला की दिनदहाड़े चुटिया काटी, महिला और बेटी बेहोश, ग्रामीण स्तब्ध

चुटिया कटने की शिकार पीड़ित लड़कियाँ।

Leave a Reply