अमर नीति से पिछड़ गया अखिलेश गुट, मुलायम ने दर्ज कराई आपत्ति

आयोग की शरण में मुलायम सिंह यादव, अमर सिंह और जयप्रदा।

चुनाव आयोग के समक्ष दावा ठोंकने में अखिलेश गुट पिछड़ गया। कूटनीति के तहत मुलायम सिंह यादव सोमवार को ही आपत्ति दर्ज कराने में कामयाब रहे। अखिलेश गुट मंगलवार को अपना दावा ठोकेगा। माना जा रहा है कि सपा के अंदर चल रहे समूचे घटनाक्रम के बाद जीत अखिलेश के हाथों में ही गिरेगी।

प्रो. रामगोपाल यादव द्वारा बुलाये गये समाजवादी पार्टी के आपातकालीन राष्ट्रीय प्रतिनिधि सम्मेलन में अखिलेश यादव सर्वसम्मति से राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिए गये। रविवार होने के चलते अखिलेश के पक्ष में हुए प्रस्ताव को सोमवार को चुनाव आयोग के समक्ष पेश करना था और उससे संस्तुति लेनी थी, लेकिन रविवार देर शाम कूटनीति के तहत मुलायम के बीमार होने की खबर उड़ा दी गई, साथ ही मुलायम द्वारा 5 जनवरी को बुलाये गये संसदीय बोर्ड की बैठक निरस्त कर दी गई, इससे अखिलेश गुट खुश हो गया।

सोमवार सुबह शिवपाल सिंह यादव दिल्ली के लिए अकेले रवाना हुए, तो अखिलेश गुट आराम की मुद्रा में भी आ गया, लेकिन यह अमर सिंह की कूटनीतिक चाल का हिस्सा था। मुलायम को बंधक न बना लिया जाये, इससे ऐसा किया गया। अचानक से सुबह ही मुलायम भी दिल्ली के लिए निकल गये। आयोग में जाने की तैयारी अमर सिंह करा चुके थे, जिससे तय समय पर सभी आयोग पहुंच गये और मुलायम की ओर से आपत्ति दर्ज करा दी गई, उनके साथ अब जयप्रदा भी खुल कर गेंदबाजी करती नजर आ रही हैं।

अखिलेश गुट की ओर से प्रो. रामगोपाल यादव कानूनी लड़ाई लड़ेंगे, वे आयोग से समय लेने में ही पिछड़ गये। उनका आवेदन देर से पहुंचने के कारण आयोग ने उन्हें मंगलवार को बुलाया है। दोनों पक्षों की दलीलों के बाद आयोग अपना निर्णय सुनायेगा, जिसमें एक-दो दिन का समय लग सकता है। कानूनी रूप से अखिलेश का पक्ष मजबूत है, लेकिन मुलायम के साथ अमर सिंह के होने से अभी कुछ भी कह पाना संभव नहीं है।

बात राजनैतिक लाभ की करें, तो विजय अखिलेश की ही होगी, क्योंकि इतना तो तय है कि साईकिल चुनाव चिन्ह अखिलेश गुट को नहीं मिला, तो विवाद के चलते मुलायम गुट को भी नहीं मिलेगा, ऐसे में साईकिल निशान जनता दल के चक्कर निशान की तरह आयोग जब्त कर दोनों को अलग-अलग निशान दे सकता है, ऐसा हुआ, तो भी लाभ की स्थिति में अखिलेश ही रहेंगे।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

अखिलेश को मात देने के लिए अरुण जेटली की शरण में गये अमर सिंह

मुलायम-शिवपाल पदच्युत, अमर सिंह बाहर, अखिलेश चुने गये राष्ट्रीय अध्यक्ष

मुलायम ने की बड़ी गलती, अखिलेश बनेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष

रविवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जायेंगे अखिलेश यादव

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.