चार बजे के बाद कम सदस्यों के साथ पहुंचे भाजपाईयों को डीएम ने लौटाया

जिलाधिकारी कार्यालय से वापस जाते भाजपा नेता व जिला पंचायत सदस्य।

बदायूं की जिला पंचायत अध्यक्ष मधू चंद्रा के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाने की उल्टी गिनती काफी समय से चल रही है। गौतम संदेश ने पहले ही बता दिया था कि असंतुष्ट सदस्यों द्वारा ईद के बाद जिलाधिकारी से तिथि निर्धारित करने का आग्रह किया जायेगा। रणनीति के अनुसार भाजपा ने आज युद्ध का शंखनाद करना चाहा, लेकिन डीएम और एडीएम (प्रशासन) ने भाजपा नेताओं की हवा शंख तक नहीं पहुंचने दी, जिससे भाजपा नेता मायूस होकर वापस लौट गये।

कलेक्ट्रेट स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पर विधायक महेश चंद्र गुप्ता, भाजपा जिलाध्यक्ष हरीश कुमार शाक्य, विधायक राजीव कुमार सिंह “बब्बू”, विधायक धर्मेन्द्र कुमार शाक्य “पप्पू”, भाजपा की क्षेत्रीय कमेटी के उपाध्यक्ष जितेन्द्र सक्सेना, पूर्व विधायक योगेन्द्र सागर एवं भाजयुमो जिलाध्यक्ष अंकित मौर्य सहित अन्य तमाम पदाधिकारी प्रीती सागर के नेतृत्व में 27 सदस्यों के साथ लगभग छः बजे अविश्वास प्रस्ताव लाने का आग्रह करने पहुंचे, जिस पर जिलाधिकारी अनीता श्रीवास्तव व एडीएम (प्रशासन) अशोक श्रीवास्तव ने 10 से 4 बजे के बीच आने को कहा, साथ ही सूत्रों का कहना है कि भाजपा नेता आज जिस सूची को लेकर जिलाधिकारी के पास पहुंचे, उसमें 32 सदस्यों के हस्ताक्षर थे, पर साथ में कुल 27 सदस्य थे, इस पर भी जिलाधिकारी ने आपत्ति जताई। सूची में जितने सदस्यों के हस्ताक्षर थे, उतने सदस्य सामने लाने को कहा, तो भाजपा नेता मायूस होकर वापस लौट गये। भाजपा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि असंतुष्ट सदस्य अब बुधवार को जिलाधिकारी से मिल सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि बदायूं में जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित हुईं समाजवादी पार्टी की मधू चंद्रा के विरुद्ध भाजपा सरकार बनते ही अविश्वास प्रस्ताव आने की खबरें उड़ने लगी थीं। मधू चंद्रा पूर्व विधायक आशुतोष मौर्य “राजू” की बहन हैं। जिला पंचायत सदस्य प्रीती सागर पूर्व विधायक योगेन्द्र सागर की पत्नी हैं, इनका बेटा कुशाग्र सागर बिसौली (सुरक्षित) विधान सभा क्षेत्र से भाजपा विधायक है, इससे पहले सपा के आशुतोष मौर्य “राजू” विधायक थे। बिसौली क्षेत्र से पहले बिल्सी क्षेत्र सुरक्षित था, तब योगेन्द्र सागर और आशुतोष मौर्य “राजू” बिल्सी क्षेत्र में चुनाव लड़ते थे, इसलिए जिला पंचायत की राजनीति में इन दोनों की ही प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

महेश, बब्बू, पप्पू, जेके और योगेन्द्र के डीएम से मिलते ही सपा में मचा हड़कंप

भाजपा मजबूत, पर ईद के बाद शुभ मुहूर्त में लाया जायेगा अविश्वास प्रस्ताव

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर शनिवार को डीएम से मिल सकते हैं सदस्य

Leave a Reply