विजय यादव नाम के दरिंदे ने बच्ची की जिंदगी को रौंदा

आठ वर्षीय बच्ची की जिंदगी को रौंदने वाले दरिंदे विजय यादव को जेल ले जाते पुलिस कर्मी।
आठ वर्षीय बच्ची की जिंदगी को रौंदने वाले दरिंदे विजय यादव को जेल ले जाते पुलिस कर्मी।

सैफई में आयोजित तिलकोत्सव में सरकार मस्त है और प्रशासन भी उसमें व्यस्त है, लेकिन जनता अब सरकार और प्रशासन के भरोसे नहीं है। बच्ची का यौन उत्पीड़न कर रहे दरिंदे विजय यादव को ग्रामीणों ने न सिर्फ दबोच लिया, बल्कि पीट कर पुलिस के हवाले भी कर दिया। बच्ची बेहद डरी-सहमी है, साथ ही उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

सनसनीखेज और दुस्साहसिक वारदात बदायूं जिले में स्थित मुजरिया थाना क्षेत्र की है। बताया जाता है कि मुड़िया नंदा गाँव के एक ब्राह्मण परिवार की आठ वर्षीय बच्ची शुक्रवार शाम को खेल रही थी, तभी पड़ोसी गाँव सिरकी खेड़ा निवासी पैंतीस वर्षीय दबंग वहां आ गया और बच्ची को बिस्किट दिलाने के बहाने बाइक पर बैठा ले गया।

बताते हैं कि दरिंदा बच्ची को शमशान में ले गया और उसे अपनी हवस का शिकार बनाने लगा। बच्ची की चीख सुन कर ग्रामीण आ गये और दरिंदे को दबोच लिया। ग्रामीणों ने दरिंदे की जमकर मार लगाई और फिर पुलिस को सूचना देकर बुला लिया।

पुलिस ने यौन उत्पीड़न और बाल शोषण की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दरिंदे को जेल भेज दिया है, लेकिन बच्ची की हालत अभी सही नहीं है। खून अधिक बहने के कारण उसकी हालत दर्दनाक बनी हुई है, जिससे उसे जिला महिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, जहां उसका उपचार चल रहा है, लेकिन वो बेहद डरी-सहमी भी नजर आ रही है।

उधर घटना को लेकर समूचे इलाके में रोष व्याप्त है और लोग घटना की निंदा भी कर रहे हैं। दरिंदा दबंग किस्म का व्यक्ति है, जिससे कुछ लोग डरे भी नजर आ रहे हैं।

दरिंदे ने किशोरी को रौंदा, हालत गंभीर, आरोपी फरार

किक डे के अवसर पर ऑनर किलिंग, पुलिस को नहीं पता

Leave a Reply