बिल्सी क्षेत्र के प्रत्याशियों को ठगने के लिए कथित पत्रकार ने शुरू किया नाटक

बिल्सी क्षेत्र के प्रत्याशियों को ठगने के लिए कथित पत्रकार ने शुरू किया नाटक

कथित पत्रकार के झांसे में अब तक कोई प्रत्याशी नहीं फंसा है, जिससे अपने शराबी के गैंग के सहारे दबाव बनाने का प्रयास करने लगा है। प्रत्याशियों के पास सूचनायें भिजवा रहा है कि शीघ्र आकर नहीं मिले, तो उनके विपक्षी प्रत्याशी को समर्थन दे दिया जायेगा, लेकिन अभी तक किसी प्रत्याशी ने कथित पत्रकार को भाव नहीं दिया है, जिससे बौखला गया है।

उल्लेखनीय है कि बदायूं जिले के कस्बा बिल्सी के रहने वाले एक शातिर व चरित्रहीन व्यक्ति ने एक बड़े संस्थान में सेटिंग के बल पर नौकरी प्राप्त कर ली थी। चरित्र में सुधार नहीं हुआ, तो उसे शीघ्र ही बर्खास्त कर दिया गया। चापलूसी के बल पर अन्य संस्थानों में नौकरी पाता रहा। पिछले दिनों शाहजहांपुर में कार्यरत था, तभी बसपा से टिकट मांगने लगा था, इसका खुलासा होने पर संस्थान ने अलीगढ़ तबादला कर दिया, पर चरित्र में सुधार नहीं हुआ, तो संस्थान ने बर्खास्त कर दिया। सभी बड़े संस्थान के मालिकों तक इसके कारनामे पहुंच गये हैं, इसलिए सभी संस्थानों ने अपने द्वार बंद कर लिए, तो स्वयं को वरिष्ठ भाजपा नेता कहने लगा।

कथित पत्रकार ने पहले शाहजहांपुर में अपने नाम और फोटो सहित सामग्री प्रसारित कराई, लेकिन वहां की जनता ने भाव नहीं दिया और न ही किसी नेता ने भाव दिया। चूँकि इसके चरित्र से सभी पहले से ही परिचित थे, तो बिल्सी विधान सभा क्षेत्र में आकर स्वयं को भाजपा प्रत्याशी कहने लगा। क्षेत्र के तमाम प्रमुख स्थानों पर अपने नाम व फोटो सहित प्रचार सामग्री चस्पा करा दी। असलियत में इसका उद्देश्य भाजपा में टिकट के दावेदारों से रूपये वसूलना था, पर किसी ने इससे बात तक नहीं की। चूँकि इसकी असलियत यहाँ सभी जानते ही हैं, सो इसे कोई पास तक बैठाने को तैयार नहीं है, सो अब बौखला गया है।

सूत्रों का कहना है कि कथित पत्रकार अपने शराबी गुर्गों के माध्यम से प्रत्याशियों के पास सूचनायें भिजवा रहा है कि शीघ्र नहीं मिले, तो उनके विपक्षी प्रत्याशी को समर्थन दे दिया जायेगा, इसके बाद भी इस कथित पत्रकार से कोई नहीं मिल रहा, जिससे इस कथित पत्रकार ने एक नया नाटक शुरू कर दिया है कि 1 फरवरी को बैठक करेगा, जिसमें समर्थन देने पर विचार किया जायेगा, जबकि इसके साथ पचास लोग भी नहीं हैं, लेकिन शातिर बुद्धि के सहारे गठरी बांधने के प्रयास कर रहा है।

यहाँ यह भी बता दें कि उक्त कथित पत्रकार ने ता-उम्र महिलाओं से जूते ही खाये हैं, क्योंकि शराब पीने के बाद महिलाओं को अक्सर छेड़ता था, इसके पिटने के हजारों किस्से हैं, जिन्हें पत्रकार चटखारे लेकर चुटकुलों की जगह सुनाते रहते हैं। साथी पत्रकार इसे दाढ़ी वाला चोर कहते हैं, यह धूर्त चिन्मयानंद का शिष्य है, जिसके बल पर स्वयं को वरिष्ठ भाजपा नेता कहने लगा है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

शाहजहांपुर से भगाने पर बिल्सी से भाजपा प्रत्याशी बन गया कथित पत्रकार

केरोसिन माफिया ने बिल्सी क्षेत्र के कथित ठाकुर नेता को दस लाख में खरीदा

Leave a Reply