महा कहर में बदला महाकुंभ, आजम ने दिया इस्तीफा

महा कहर में बदला महाकुंभ, आजम ने दिया इस्तीफा
इलाहाबाद में बचाव कार्य करते पुलिस कर्मी
इलाहाबाद में बचाव कार्य करते पुलिस कर्मी

रविवार को महाकुंभ महा कहर में बदल गया। इलाहाबाद स्टेशन पर मची भगदड़ ने 36 बेक़सूर श्रद्धालुओं को निगल लिया, वहीं तमाम लोग बुरी तरह घायल हुए हैं। कुछ मृतकों की पहचान कर ली गई है, जिनके परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

बताया जा रहा है कि रविवार को इलाहाबाद जंक्शन पर दस लाख से भी ज्यादा लोगों की भीड़ जमा हो गई। प्लेटफार्म नंबर छह पर शाम लगभग सात बजे पुलिस ने लोगों को लाठी से पीटना शुरू कर दिया, तो डरे-सहमे लोग घबराकर इधर-उधर दौड़ने लगे, जिससे फुटओवर ब्रिज की रेलिंग टूट गई और लोग एक-दूसरे के ऊपर ब्रिज से नीचे जा गिरे। हादसे में 36 लोग मौत की नींद सो चुके हैं और तीस से अधिक लोग बुरी तरह घायल हैं। 58 लोगों को स्वरूपरानी हास्पीटल में भर्ती कराया गया है। हादसे ने जान गंवाने वाले उर्मिला देवी  (70) पत्‍‌नी छोटे लाल निवासी रामबाग, बक्सर, बिपताबाई (60) पत्‍‌नी देवप्रसाद निवासी मझौली, जबलपुर, नत्थूलाल द्विवेदी (72) पिता श्रीराम द्विवेदी निवासी आशा नगर, हरदोई, संध्या शुक्ला (46), पत्‍‌नी राजेश कुमार निवासी चकेरी, कानपुर, कामताबाई (65) पत्‍‌नी गोपीनाथ निवासी औरंगाबाद, महाराष्ट्र, रामकला श्रीवास्तव, पुत्र गंगा प्रसाद निवासी मेहंदीनगर, प्रतापगढ़, रामसुती निवासी भिंड, मध्य प्रदेश, शिवकुमारी निवासी आरा, बिहार, आशा देवी निवासी आरा, बिहार, बिपताबाई (60) पत्‍‌नी देवप्रसाद निवासी मझौली, जबलपुर, मध्य प्रदेश, चौथी लाल मीणा (46) पुत्र सुखराम निवास अज्ञात, बबिता (35) निवास अज्ञात, शिवकुमार देवी (45) पत्‍‌नी रमेशचंद्र निवासी कृष्णगढ़, आरा, बिहार की पहचान कर ली गई है। उत्तर प्रदेश सरकार ने जांच का आदेश देते हुए मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा कर केंद्र सरकार पर हादसे का दोष मढ़ दिया है, वहीँ केंद्र ने घटना पर शोक व्यक्त करते हुए प्रदेश सरकार को दोषी माना है।

उधर कुंभनगर के सेक्टर 12 में दोपहर बाद लगभग एक बजे लोग इधर-उधर भागने लगे, जिससे एक वृद्ध गोविंद राय (62) की मृत्यु हो गई। वह पश्चिम बंगाल में स्थित 24 परगना जिले के थाना नया डीह क्षेत्र के गाँव विजयनगर के निवासी थे। हरियाणा के करनाल जिले के किजना थाना क्षेत्र में स्थित बिजपुर गांव के तेलूराम का भी शव के साथ एक अज्ञात वृद्धा का भी शव मिला है, साथ ही कुंभ क्षेत्र के अस्पताल में हैदराबाद की कौशल्या मोदानी (70) और अहमदाबाद के रजनीकांत (57) की मौत हो गई।

खैर, एक घटना रविवार की सुबह ही हो चुकी थी, जिसे प्रशासन ने गंभीरता से लिया होता, तो शायद, यह हादसा टल सकता था।

 

रेलवे ने की हेल्पलाइन की व्यवस्था

हादसे के बाद रेलवे ने जानकारी और सहायता के लिए नई दिल्ली 011-23342954/011-23341074, पुरानी दिल्ली 011-23967332, इलाहाबाद 0532-2408149/2408128 और मुगलसराय 05412-254145 में हेल्पलाइन शुरू की है।

आजम ने दिया इस्तीफा

उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खां ने कुंभ कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घोषणा की है। गृह जनपद रामपुर में अचानक बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने इस्तीफा देने का ऐलान किया।

रेलमंत्री ने जताई मजबूरी

नई दिल्ली में रेलमंत्री पवन कुमार बंसल ने हर 10 मिनट में भी ट्रेन चलाएंगे, तो भी कुंभ में आई भीड़ को संभालना मुश्किल होगा और हर 10 मिनट में ट्रेन नहीं चलाई जा सकती। बोले- वह आज इलाहाबाद में स्थिति और तैयारियों का जायजा लेने के जा रहे हैं और प्रयास रहेगा कि इलाहाबाद से ज्यादा से ज्यादा ट्रेन चलवाकर लोगों को उनकी जगहों पर भेज दिया जाए, पर दूसरी जगहों की कुछ ट्रेनों को भी रद्द करना पड़ेगा।

Leave a Reply