फायर ब्रांड नेता कुलदीप बने युवा वाहिनी के प्रांतीय उपाध्यक्ष

युवा वाहिनी के नव-नियुक्त प्रांतीय उपाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय।
युवा वाहिनी के नव-नियुक्त प्रांतीय उपाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय।

बदायूं जिले के भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय को कट्टरपंथी सोच का व्यक्ति मानते हुए जिस भाजपा ने बाहर निकाल फेंका, उसी भाजपा के पितृ संगठन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के दूसरे अनुवांशिक ने कुलदीप वार्ष्णेय को न सिर्फ गले लगाया है, बल्कि प्रांतीय स्तर पर बड़ा दायित्व भी दिया है। फायर ब्रांड नेता के रूप में उभर कर सामने आये कुलदीप वार्ष्णेय को युवा वाहिनी ने प्रांतीय उपाध्यक्ष बनाया है।

उल्लेखनीय है कि नई दिल्ली स्थित जेएनयू में भारत विरोधी नारेबाजी करने के आरोपी कन्हैया की जीभ काटने वाले को कुलदीप वार्ष्णेय ने पांच लाख रूपये इनाम देने की घोषणा की थी, इस पर देश भर में जमकर बवाल हुआ, जिसके बाद भाजपा ने कुलदीप वार्ष्णेय को पार्टी से निष्कासित कर दिया।

कुलदीप वार्ष्णेय का कहना है कि वह राष्ट्रवादी और हिंदूवादी विचारधारा के व्यक्ति हैं, जिस पर वे न सिर्फ चलते रहेंगे, बल्कि विचारधारा के लिए हर तरह की कुर्बानी देने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि वह युवा वाहिनी से युवाओं को जोड़ेंगे और गाँव-गाँव टीम गठित करेंगे। कुलदीप वार्ष्णेय को अलीगढ़ में हुई प्रांतीय बैठक में प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम लोधी ने प्रांतीय उपाध्यक्ष घोषित किया, इस दौरान क्षेत्रीय संगठन मंत्री हितेश कुमार सहित तमाम पदाधिकारी उपस्थित रहे। बता दें कि आरएसएस के अनुवांशिक संगठन हिंदू जागरण मंच के मार्गदर्शन में युवा वाहिनी नाम का संगठन कार्य करता है, जो कट्टरपंथी विचारधारा का वाहक माना जाता है।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

कुलदीप वार्ष्णेय के विरोधी भाजपा नेताओं की निंदा

कन्हैया की जीभ काटने पर पांच लाख रूपये देने की घोषणा

कांठ जाने की रणनीति बनाते भाजयुमो जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

भाजयुमो की चर्चित पदयात्रा का शुभारंभ, कई नेता नहीं आये

Leave a Reply