सपा विधायक के विरुद्ध रचा था षड्यंत्र, सिपाही निकला झूठा

समाजवादी पार्टी के विधायक रामखिलाड़ी सिंह यादव
समाजवादी पार्टी के विधायक रामखिलाड़ी सिंह यादव

समाजवादी पार्टी के विधायक पर आरोप लगाने वाला सिपाही झूठा निकला, उसके द्वारा बताई जा रही पूरी घटना ही फर्जी निकली है। विधायक ने एक स्थानीय नेता पर षड्यंत्र रच कर फंसाने का आरोप लगाया है।

उल्लेखनीय है कि संभल जिले के गुन्नौर विधान सभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के विधायक रामखिलाड़ी सिंह यादव पर सतेन्द्र यादव नाम के सिपाही ने उसको बंधक बना कर बेरहमी से पीटने का आरोप लगा था। सिपाही ने घटना की पृष्ठभूमि में बताया था कि अपहरण का एक आरोपी विधायक की बबराला स्थित कोठी पर था, जिसे वह पकड़ने गया था, इस पर उसे बंधक बना कर पीटा गया।

सिपाही के आरोप के बाद हड़कंप मच गया। छानबीन हुई, तो ज्ञात हुआ कि दो लोगों के बीच एक औरत को खरीदने-बेचने की बात तय हुई थी। सतीश नाम के व्यक्ति ने वासुदेव से पचास हजार रूपये ले लिए, लेकिन औरत नहीं दिलवाई। वासुदेव रूपये वापस मांगने लगा, तो सतीश टालता रहा, साथ ही वासुदेव की फर्जी शिकायत भी कर दी एवं वासुदेव को प्रताड़ित करने के लिए एक दारोगा और दो सिपाहियों को रिश्वत भी दे दी, इसीलिए सिपाही वासुदेव के पीछे पड़े थे, पुलिस दोनों पक्षों से रूपये लेने के प्रयास कर रही थी। अपहरण जैसी कोई घटना ही नहीं हुई थी।

सिपाही के आरोप के बाद सतीश भी सामने आ गया और उसने भी कहा कि विधायक का उसके प्रकरण से कोई मतलब नहीं है, वहीं विधायक का कहना है कि एक स्थानीय नेता ने सिपाही से मिल कर उनके विरुद्ध षड्यंत्र रचा था, जिसका खुलासा हो चुका है। जनता उस नेता को स्वयं सबक सिखा देगी।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

सपा विधायक ने बंधक बना कर सिपाही को बेरहमी से पीटा

कथित अपहृत का बयान सुनने/देखने के लिए क्लिक करें लिंक

Leave a Reply