स्कूल और धार्मिक स्थलों के पास स्थित शराब की दुकानों के विरुद्ध प्रदर्शन

मोहल्ला कबूलपुरा में प्रदर्शन करती महिलायें।

बदायूं जिले के पुरुषों की तुलना में महिलायें ज्यादा सक्रिय नजर आ रही हैं। मुख्यालय के अलावा अन्य कई स्थानों पर महिलाओं ने शराब की दुकानों के विरुद्ध मोर्चा खोल दिया। महिलाओं के हाव-भाव देख कर शराब की दुकानों पर बैठे सेल्समेन घबरा गये और दुकानें बंद कर भाग गये। महिलाओं द्वारा की गई मोर्चाबंदी से लोग न सिर्फ स्तब्ध हैं, बल्कि दाद भी देते नजर आ रहे हैं।

बदायूं शहर में सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला कबूलपुरा स्थित शराब की दुकान से त्रस्त महिलाओं ने जमकर प्रदर्शन किया। दुकान से मंदिर और मस्जिद की दूरी पचास मीटर भी नहीं है, लेकिन शराबियों के चलते पूरे क्षेत्र का माहौल खराब रहता है। लाठी-डंडे लेकर आईं महिलाओं को देखते ही सेल्समेन दुकान बंद कर भाग गया। घटना दिन भर शहर में चर्चा का विषय बनी रही।

इसी तरह मूसाझाग में भी धार्मिक स्थल के पास स्थित होने के चलते शराब की दुकान के विरोध में प्रदर्शन किया गया, यहाँ भी काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल बना रहा। कस्बा वजीरगंज में शराब की दुकान के पास धार्मिक स्थल के साथ स्कूल भी बताया जाता है, जिसको लेकर लोग लामबंद हो गये और दुकान हटाने पर अड़ गये। अलापुर में भी शराब की दुकान हटाने को लेकर प्रदर्शन किया गया, यहाँ भी दुकान के पास धार्मिक स्थल बताया जाता है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

वजीरगंज में पुलिस की जीप के सामने प्रदर्शन करते लोग।

Leave a Reply