ईंटें निकालते समय मिटटी ढहने से कूआं में बरेली का मजदूर दबा

कूआं और बचाव में जुटी पुलिस व मजदूर।

बदायूं जिले में कुआं की ईंटें निकालते समय मजदूरों के दबने की कई घटनायें हो चुकी हैं। कई जानें जा चुकी हैं, इसके बावजूद लोग नहीं मान रहे, इसलिए पुलिस-प्रशासन को अवगत कराये बिना कुआं से ईंटें निकालने पर रोक लगानी होगी। आज फिर बरेली जिले का एक मजदूर कूआं में ईंटें निकालते समय दब गया। हाहाकार मचा हुआ है। पुलिस-प्रशासन बचाव कार्य में जुटा हुआ है।

घटना वजीरगंज थाना क्षेत्र के गाँव लहरा लाड़पुर की है, यहाँ लल्ला मियां का कूआं लंबे समय से बंद पड़ा है। लल्ला ने बरेली जिले के आंवला थाना क्षेत्र में स्थित गाँव गुलेली के मजदूरों को ईंटें निकालने का ठेका दे दिया। तीन मजदूर बुधवार से ईंटें निकाल रहे थे। आज करीब नौ बजे मिटटी की ढांग ढह गई। सत्यपाल उर्फ चेलू नाम का मजदूर कूआं में नीचे था, जिससे वह दब गया। मजदूर के दबने की बात फैली, तो हाहाकार मच गया। लोग घटना स्थल की ओर दौड़ पड़े। सैकड़ों लोग मौके पर जमा हैं और मजदूर के सकुशल बाहर निकलने की कामना कर रहे हैं।

सूचना के बाद एसडीएम, सीओ और स्थानीय पुलिस भी पहुंच गई और जेसीबी, सीढ़ी, रस्सी आदि का इंतजाम कर बचाव कार्य में जुट गई। मिटटी रेतीली है एवं जगह कम है, साथ ही मौसम भी खराब है, जिससे बचाव कार्य में बाधा आ रही है। मिटटी में दबे मजदूर की हालत निकलने के बाद ही पता चल सकेगी, लेकिन मजदूर के बचने की उम्मीद कम ही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply