इलाहाबाद चतुर्थ श्रेणी वेलफेयर एसोसियेशन के देवेन्द्र चुने गये सचिव

जीत के बाद समर्थकों से घिरे देवेन्द्र पाल सिंह।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की चतुर्थ श्रेणी वेलफेयर एसोसियेशन के सचिव पद की पुनः मतगणना होने पर देवेन्द्र पाल सिंह सचिव चुने गये हैं। चुनाव परिणाम आते ही देवेन्द्र के समर्थक झूम उठे और उन्हें फूल-मालाओं से लाद दिया।

चतुर्थ श्रेणी वेलफेयर एसोसियेशन का चुनाव 19 नंवबर 2016 को हुआ था, जिसका परिणाम 20 नवंबर 2016 को आया था। वकील सचिव निर्वाचित घोषित हुए थे, लेकिन देवेन्द्र पाल सिंह ने धांधली का आरोप लगाते हुए पुनः मतगणना कराने की मांग की थी। देवेन्द्र के तर्कों को सही पाते हुए 14 जनवरी को पुनः मतगणना कराई गई, तो 370 मत पाने वाले देवेन्द्र विजयी घोषित कर दिए गये, वहीं वकील के 353 मत निकले।

पुनः मतगणना होने के कारण न्यायालय के समस्त कर्मचारियों की परिणाम पर नजर बनी हुई थी। देवेन्द्र के विजयी घोषित होने का परिणाम जैसे ही आया, वैसे ही उनके समर्थक झूम उठे। देवेन्द्र को फूल-मालाओं से लाद दिया गया। देर रात तक उन्हें बधाई देने वालों का ताँता लगा रहा। यहाँ यह भी बता दें कि देवेन्द्र बदायूं जिले में स्थित थाना इस्लामनगर क्षेत्र के गाँव नूरपुर पिनौनी के मूल निवासी हैं, इनके छोटे भाई रामेन्द्र पाल सिंह उच्च न्यायालय में ही अधिवक्ता हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply