गरीब मुस्लिम परिवार की जमीन का कराया फर्जी बैनामा

पीड़ित मुस्लिम परिवार।
पीड़ित मुस्लिम परिवार।

कुछ इंसानों के अंदर से ईमान नाम की चीज गायब हो गई है। धन-संपत्ति हड़पने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। एक गरीब मुस्लिम परिवार की जमीन हड़पने के उददेश्य से एक शातिर दिमाग इंसान ने गलत व्यक्ति के माध्यम से फर्जी बैनामा करा लिया। खुलासा होने से हड़कंप मच गया है।

घटना बदायूं जिले के कस्बा उसहैत की है। बताते हैं कि सगीर अहमद की मृत्यु हो चुकी है, उनकी संपत्ति की वारिश पत्नी नसीम फात्मा और दो बेटे मुनीर अहमद एवं सकीर अहमद हैं, लेकिन उसहैत के ही शातिर दिमाग इंसान सुबोध गुप्ता ने कस्बा अलापुर के एक व्यक्ति जहीरुल को रूपये देकर विक्रेता बना दिया और स्वयं क्रेता बन गया, साथ ही अपने भाई यतीन्द्र गांधी और एक परिचित हसीन मिर्जा को गवाह बना कर 30 अगस्त को फर्जी बैनामा करा लिया। बैनामे में जहीरुल को सगीर अहमद की इकलौती औलाद दर्शाया गया है।

बैनामे में लगे क्रेता, विक्रेता और गवाहों के चित्रों की छायाप्रति।
बैनामे में लगे क्रेता, विक्रेता और गवाहों के चित्रों की छायाप्रति।

किसी तरह भूमि स्वामी को पता चल गया, तो पूरा परिवार परेशान हो उठा। पीड़ित परिवार दातागंज जाकर रजिस्ट्रार से मिला, तो कागजात देखने के पश्चात उन्होंने कोतवाली में तहरीर दिलवा दी। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। बताते हैं कि सुबोध अंतर्राज्जीय डकैतों के संपर्क में रहता है और उनसे लूट का माल खरीदने के प्रकरण में जेल भी जा चुका है।

Leave a Reply