पिछड़े वर्ग की नंदिनी ने चौथी बार में टॉप की यूपीएससी की परीक्षा

नंदिनी केआर

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने वर्ष- 2016 की परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। कर्नाटक के कोलार की रहने वाली पिछड़े वर्ग की नंदिनी केआर ने यूपीएससी परीक्षा में टॉप किया है। अनमोल शेर सिंह बेदी को दूसरा और गोपालकृष्णन रोनांकी को तीसरा स्थान मिला है।

वार्षिक परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाले कुल- 1099 छात्रों में से पांच सौ अभ्यर्थी सामान्य वर्ग के हैं, जबकि 347 पिछड़ा वर्ग, 163 अनुसूचित वर्ग और 89 जनजाति वर्ग के हैं। परिणाम के आधार पर 180 का आईएएस, 150 का आईपीएस और 45 का आईएफएस के चयन किया गया है, इनके अलावा केंद्रीय सेवाओं में ग्रुप- ए के लिए 603 और ग्रुप- बी के लिए 231 का चयन हुआ है। टॉप करने वाली नंदिनी का चयन वर्ष- 2014 में आईआरएस के लिए हो चुका है, वह वर्तमान में फरीदाबाद स्थित राष्ट्रीय सीमा शुल्क एवं नशीले पदार्थ अकादमी में प्रशिक्षण ले रही हैं। नंदिनी ने वैकल्पिक विषय के तौर पर कन्नड़ साहित्य का विषय चुना था। उन्होंने बंगलूरू स्थित एमएस रमैया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से सिविल इंजीनियरिंग में बीई की डिग्री हासिल की है। अनमोल शेर सिंह बेदी ने पुरुष वर्ग में टॉप किया है।

टॉप टेन में नंदिनी केआर के बाद अनमोल शेर सिंह बेदी, गोपालकृष्ण रोनांकी, सौम्या पांडेय, अभिलाष मिश्रा, कोठामासू दिनेश कुमार, आनंद वर्धन, श्वेता चौहान, सुमन सौरव मोहंती और बिलाल मोहीउद्दीन भट हैं। भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित अन्य शीर्ष सेवाओं के अधिकारियों के चयन के लिए यूपीएससी हर साल तीन चरणों में सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करती है, जिसमें देश भर के विभिन्न केंद्रों पर लाखों परीक्षार्थी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा में भाग लेते हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply