प्रेमी के कारण दुधमुंहे की बलि, पिता ने दर्ज कराया मुकदमा, माँ गिरफ्तार

बदायूं जिले में सोमवार का दिन माँ-बाप के रिश्ते को ही कलंकित कर गया। दुधमुंहे बच्चे की हत्या का आरोप उस माँ पर ही लगा है, जिसे उसने न सिर्फ नौ माह कोख में रखा था, बल्कि पति से अलग रहते हुए अकेले ही पाला था। दुर्भाग्य ही कहा जायेगा कि दो वर्ष बाद पिता के पास आया, तो बेटे की चौबीस घंटे के अंदर हत्या हो गई और माँ हत्या का कलंक लेकर जेल जा रही है। बच्चे के हत्या की गुत्थी उलझी हुई है, पर पुलिस ने पिता की ओर से मुकदमा दर्ज कर माँ को गिरफ्तार कर लिया है। हालाँकि माँ पति पर हत्या का आरोप लगा रही है।

क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी घटना बिसौली कोतवाली क्षेत्र के गाँव दिसौलीगंज की है, यहाँ के रामखिलाड़ी मौर्य का विवाह इस्लामनगर थाना क्षेत्र के गाँव चाचीपुर की प्रीती से तीन वर्ष पूर्व हुआ था। बताते हैं कि शादी के बाद ही दोनों के बीच झगड़ा होने लगा। पति अक्सर आरोप लगाता था कि उसका मायके में प्रेम प्रसंग चल रहा है। बात जब ज्यादा बढ़ गई, तो दो वर्ष पूर्व प्रीती मायके चली गई और फिर लौट कर नहीं आई, इस बीच उसने पुत्र को जन्म दिया, जो अब लगभग दो वर्ष का हो गया था। दोनों के परिचितों ने मध्यस्ता की, तो शुक्रवार को प्रीती पति के घर आ गई। बताते हैं कि पहली बार बेटा घर आया था, जिसको लेकर पारंपरिक पूजा की गई एवं महिला संगीत भी हुआ, लेकिन आज दोपहर में दो वर्ष के दीपक को गले में फंदा डाल कर मौत के घाट उतार दिया गया।

घटना के बाद प्रीती पति रामखिलाड़ी पर आरोप लगा रही है कि वह प्रेमी का बच्चा बताता था, जिसके चलते उसने मार दिया, वहीं पति प्रीती पर आरोप लगा रहा है कि बेटे की हत्या में उसे जेल भिजवा कर प्रेमी के साथ रहना चाहती है। चूँकि दीपक की बेरहमी से हत्या की गई है, इसलिए दोनों में से कोई एक ही सही है, पर दिसौलीगंज में गवाह और साक्ष्य प्रीती के विरुद्ध नजर आ रहे हैं। लोगों का कहना है कि घटना के समय रामखिलाड़ी खेत पर था, इसलिए हत्या प्रीती ने ही की है। पुलिस ने भी रामखिलाड़ी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर प्रीती को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन सवाल यह भी उठ रहा है कि जिस माँ ने बच्चे को अकेले पैदा किया और दो वर्ष से पाल रही थी, वह अचानक से इतनी निर्दयी कैसे हो जायेगी कि बेटे की हत्या ही कर दे?

खैर, प्रथम दृष्टया माँ दोषी सिद्ध हो गई है, जो मंगलवार को जेल भेज दी जायेगी, इस प्रकरण को लेकर अधिकांश लोगों की इच्छा है कि पुलिस गहनता से विवेचना कर सच सामने अवश्य लाये, क्योंकि हाल-फिलहाल कार्रवाई भले ही माँ पर हो रही हो, पर पिता भी संदिग्ध नजर आ रहा है।

उधर जरीफनगर थाना क्षेत्र में गाँव उस्मानपुर के पास एक खेत से शव बरामद हुआ है। हत्यारों ने हत्या के बाद पहचान छुपाने के उद्देश्य से शव का चेहरा तेजाब से जला दिया है। शव का पंचनामा भर कर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय भेज दिया है। शव मिलने से क्षेत्र में दहशत नजर आ रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

प्रीती से पूछताछ करते सीओ एवं इंसेट में रामखिलाड़ी।

Leave a Reply