कस्बा सहसवान में सड़क किनारे मिले नवजात को देखने को लगी रही भीड़

कस्बा सहसवान में मिला नवजात।

बदायूं जिले के कस्बा सहसवान में शुक्रवार को एक नवजात चर्चा का विषय बना रहा। कपड़े में लपेट कर कोई नवजात को शौचालय के पास छोड़ गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने नवजात सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा दिया, जहां उसे देखने वालों की भीड़ लगी रही।

बताते हैं कि सहसवान में बदायूं-मेरठ हाईवे के किनारे मुख्य चौराहे पर शौचालय के पास कपड़े में लिपटा हुआ एक नवजात पड़ा था। कस्बा इस्लामनगर निवासी प्यारे मिस्त्री की उस पर नजर पड़  गई। सूचना पुलिस को दी गई, तो पुलिस ने नवजात सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचवा दिया, जहाँ उसे देखने और गोद लेने वालों की भीड़ लगी रही। नवजात स्वस्थ और हुष्ट-पुष्ट था, जिससे सभी का मन लुभा रहा था। नवजात को लेकर तरह-तरह की बातें भी की जा रही थीं और अज्ञात माँ भी को लोग कोस रहे थे।

यह भी बता दें कि उघैती थाना क्षेत्र के गांव स्वरूपपुर के जंगल में 1 अगस्त को झाड़ियों के बीच सुबह नवजात बच्ची का शव पड़ा दिखाई दिया था। शव की सूचना पुलिस को दी गई, तो घटना स्थल पर पहुंच कर पुलिस ने जांच की और शव सील पर मुख्यालय भेज दिया था, लेकिन घटना को लेकर कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था घटना स्थल पर ही कस्बा बिल्सी के राज नर्सिंग होम का थैला भी पड़ा था, जिससे कयास लगाये जा रहे थे कि गर्भवती महिला का उपचार इसी नर्सिंग होम में हुआ होगा, जिसके रिकॉर्ड से आसानी से पता लगाया जा सकता था कि गाँव स्वरूपपुर और आसपास के गांवों में किस महिला का उपचार चल रहा था, जिसके आधार पर दरिंदों को आसानी से पकड़ा जा सकता है, पर पुलिस ने जाँच करने की जरूरत ही महसूस नहीं की

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: हत्या कर नवजात का शव फेंका, राज नर्सिंग होम में छुपा है दरिंदों का राज

Leave a Reply