अगवा कर यौन शोषण के बाद किशोरी की हत्या, शाहजहाँपुर की सीमा पर मिला शव

उघैती थाना क्षेत्र के जंगल में पड़ा किशोरी का शव।

बदायूं में एक बार फिर सनसनीखेज वारदात प्रकाश में आई है। किशोरी को अगवा कर यौन शोषण के बाद मौत के घाट उतार दिया गया है। घटना को लेकर क्षेत्र में दहशत नजर आ रही है।

सनसनीखेज वारदात उघैती थाना क्षेत्र की है। शनिवार को शाम करीब सात बजे एक 16 वर्षीय किशोरी द्वार पर ही बने शौचालय में गई थी, जहाँ से उसे उठा लिया गया। परिजनों और मोहल्ले के लोगों ने किशोरी को रात भर खोजा, लेकिन उसका पता नहीं चला। रविवार को उसका जंगल में पड़ा नजर आया।

शव के हालात बता रहे हैं कि हत्या से पहले उसका यौन शोषण भी किया गया है। हत्या दुपट्टे से गला दबा कर की गई है। सूचना फैलते ही मौके पर आसपास के गाँवों की भीड़ जमा हो गई। क्षेत्र में दहशत व्याप्त है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय भेज दिया है।

बता दें कि मृतक किशोरी समृद्ध ब्राह्मण परिवार की सदस्य है। दो भाई हैं, जो दिल्ली में रहते हैं एवं दो बहनें हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। किशोरी माँ-बाप के साथ गाँव में रहती थी।

उधर बदायूं जिले की सीमा पर कटरी क्षेत्र में दो दिनों से एक शव पड़ा था, जिसे सूचना के बावजूद हजरतपुर थाना पुलिस ने सीमा विवाद के चलते संज्ञान में नहीं लिया। रविवार को शाहजहांपुर जिले के थाना परौर की पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा है। पहचान मिटाने को हत्यारों ने शव का चेहरा भी जला दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.