महिला का शव मिला, कर्मचारी को बदमाशों ने गोली मारी, मौत

यौन शोषण के साथ जघन्यतम हत्या की वारदात घटित हुई है। घटना के चलते समूचे इलाके में दहशत का माहौल है। मृतका के घर कोहराम मचा हुआ है। इसी तरह दूसरी जघन्य वारदात में चकबंदी विभाग के कर्मचारी को लूट के इरादे से घात लगाये बैठे बदमाशों ने गोली मार दी, जिससे उसकी मौत गई है। घटना को लेकर हाहाकार मचा हुआ है।

हृदय विदारक घटना बदायूं जिले के थाना उसांवा क्षेत्र में स्थित गाँव अनंदीपुर में घटित हुई है। यहाँ की एक 30 वर्षीय महिला शाम के समय शौच के लिए जंगल में गई थी, जिसका लोगों को देर शाम नहर में शव पड़ा दिखा। जानकारी होने पर लोग घटना स्थल की ओर दौड़ पड़े। शव देखने से लग रहा है कि हत्या से पूर्व महिला का यौन शोषण भी किया गया है, लेकिन अभी तक यौन शोषण की पुष्टि नहीं हुई है। मेडिकल परीक्षण के बाद ही मौत का कारण और यौन शोषण के बारे में स्थिति स्पष्ट हो सकेगी, लेकिन फिलहाल घटना को लेकर समूचे इलाके में दहशत फैल गई है। पुलिस ने पंचनामा भर कर शव सील कर दिया है। मृतका के घर में कोहराम मचा हुआ है। बताया जाता है कि मृतक महिला पति व बच्चों के साथ दिल्ली में रहती थी। कुछ दिन पहले ही पूरा परिवार गाँव लौटा था। पति गुरुवार को ही दिल्ली गया था और आज यह वारदात घटित हो गई। पति के न होने के कारण पुलिस के पास अभी तक कोई तहरीर नहीं पहुंची है।

जिला अस्पताल में मृतक को देखते सीओ सिटी राजेन्द्र सिंह धामा।
जिला अस्पताल में मृतक को देखते सीओ सिटी राजेन्द्र सिंह धामा।

दूसरी जघन्य वारदात कुछ देर पहले की है। जोगेंद्र सिंह यादव (37) पुत्र रामचन्द्र अलापुर थाना क्षेत्र के गाँव जगत का निवासी है और चकबंदी विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। देर रात करीब आठ बजे बाइक द्वारा गाँव जा रहा था। बाइक बेटा सुनील चला रहा था। जगत व सखानूं के बीच में पुराने भट्टे के पास घात लगाये बैठे बदमाशों ने लूटने के इरादे से बाइक रोकने का प्रयास किया, लेकिन सुनील ने बाइक नहीं रोकी, तो बदमाशों ने गोली मार दी, जो जोगेंद्र को लग गई। घायल जोगेंद्र को जिला अस्पताल लाया गया, जहाँ डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है, लेकिन पुलिस बदमाशों को अभी तक खोज नहीं पाई है।

Leave a Reply