कोठी में बंधक बना कर किशोरी का मेहरबान ने भी किया था यौन उत्पीड़न

कोठी में बंधक बना कर किशोरी का मेहरबान ने भी किया था यौन उत्पीड़न

बदायूं जिले के कस्बा फैजगंज बेहटा से किये गये दलित किशोरी के अपहरण और यौन उत्पीड़न के प्रकरण में नया मोड़ आ गया है। चेयरमैन के ससुर मेहरबान खां पर भी आरोप लग गया है। पीड़ित ने अदालत में बताया कि अपहरण के बाद उसे मेहरबान की कोठी में बंधक बना कर रखा गया एवं मेहरबान ने भी यौन उत्पीड़न किया। पुलिस बयानों की जाँच कर रही है।

थाना फैजगंज बेहटा क्षेत्र में स्थित घर से दलित किशोरी का 11 मई को अपहरण किया गया था, जिसमें नन्हे पुत्र युसूफ, अय्यूब और कय्यूब पुत्रगण निसार के विरुद्ध थाना फैजगंज बेहटा में मुकदमा संख्या- 124/17 धारा 452, 363 आईपीसी और 3/2 एससी/एसटी एक्ट पंजीकृत कराया गया था। एसएसपी ने सीओ के निर्देशन में नामजदों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की थी। टीम ने तेजी से कार्य करते हुए नामजदों को गिरफ्तार कर लिया था एवं लड़की को भी बरामद कर लिया था, जिसके बाद किशोरी को मेडिकल परीक्षण और न्यायालय में पेश करने के उद्देश्य से मुख्यालय पर महिला थाने भेज दिया गया था, जहां अय्यूब और कय्यूब के परिजन और रिश्तेदारों पर महिला थाने में पीड़ित दलित किशोरी को धमकाने का आरोप लगा था। पीड़ित पक्ष द्वारा आपत्ति करने पर सब भाग गये थे।

उक्त प्रकरण में किशोरी को  न्यायालय में पेश किया गया, जहां उसके धारा- 164 के अंतर्गत बयान दर्ज कराये गये सूत्रों का कहना है कि पीड़ित किशोरी ने नामजद नन्हे, अय्यूब और कय्यूब के साथ मेहरबान खां का भी नाम लिया है, उसका कहना है कि उसे अपहरण के बाद मेहरबान की कोठी में बंधक बना कर रखा गया एवं मेहरबान ने भी उसका यौन उत्पीड़न किया। पुलिस किशोरी के बयानों की जांच कर रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

अय्यूब और कय्यूब के दबंग परिजनों ने दलित किशोरी को थाने में धमकाया

Leave a Reply