बीवी ने शौहर के साथ कॉल गर्ल को पकड़ा, पुलिस ने कॉल गर्ल को छोड़ दिया

छापा मारने के बाद बाहर निकलती पुलिस और कोतवाली में मौजूद मारिया और उसके मायके वाले।

शौहर को कॉल गर्ल से शारीरिक संबंध बनाने की लत गई, तो वह बीवी को प्रताड़ित करने लगा। 7 वर्ष पुराना रिश्ता होने के बावजूद रिश्ते को तोड़ने के बहाने तलाशने लगा। शौहर को लगा कि बीवी के मायके वाले दहेज देने में असमर्थ है, इसलिए और दहेज की मांग करने लगा। दहेज को लेकर बेरहमी से पीटने के बाद बीवी को घर से निकाल दिया और फिर घर में ही कॉल गर्ल के साथ मजे लेने लगा, जिसकी सूचना बीवी को मिली, तो बीवी ने मायके और पुलिस वालों के साथ जाकर दोनों को आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ लिया, पर पुलिस ने संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज नहीं किया।

बदायूं जिले के कस्बा सहसवान की घटना है। मोहल्ला काजी निवासी मारिया का निकाह वर्ष- 2010 में बरेली निवासी शोयब के साथ हुआ था, उसके एक बेटा और एक बेटी है, सब कुछ सही चल रहा था, इस बीच शोयब को कॉल गर्ल के साथ शारीरिक संबंध बनाने की लत लग गई, तो वह मारिया से दूर भागने लगा और उससे छुटकारा पाने का प्रयास करने लगा। मारिया का आरोप है कि उसे दहेज को लेकर भी प्रताड़ित किया जाने लगा, उसने विरोध किया, तो पूरा परिवार शोयब के साथ ही खड़ा हो गया और 4 जुलाई को सभी ने उसे बेरहमी से पीट कर घर से निकाल दिया, वह लोक-लाज के भय से मायके जाकर रहने लगी।

शोयब कस्बा सहसवान में ही बरेली फर्नीचर हाउस के नाम से दुकान चलाता है, जिसके पीछे घर है। 6 जुलाई की शाम को किसी ने मारिया को सूचना दी कि शोयब के पास एक महिला है। सूचना के बाद मारिया मायके वालों, डायल- 100 और कोतवाली पुलिस के साथ घर पहुंच गई, उसने शौहर को कॉल गर्ल के साथ आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ लिया। बताते हैं कि दोनों ने शराब भी पी थी, इस पूरे घटना क्रम का पुलिस के अलावा अन्य कई लोगों ने वीडियो भी बना लिया है।

बताते हैं कि कोतवाल ने यह कहते हुए रात में कार्रवाई करने से मना कर दिया कि उनके पास महिला स्टाफ नहीं है। मारिया और उसके मायके वाले रात भर घर की रखवाली करते रहे। सुबह को भी कोतवाल ने मनमानी धाराओं के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया। दहेज एक्ट के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर मूल घटना को दबा दिया, जबकि दर्ज की गई एफआईआर में पूरे घटनाक्रम का उल्लेख किया गया है, पर धारायें नहीं लगाई गई हैं, साथ ही आज देर शाम लखीमपुर खीरी जिले की रहने वाली कॉल गर्ल को पुलिस ने छोड़ भी दिया, जबकि धारायें न लगाने के बावजूद शोयब अभी भी पुलिस की हिरासत में है। कॉल गर्ल के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की, जिससे मारिया आक्रोशित है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply