हत्या व लूट की जघन्य वारदात, पुलिस ने माना सड़क हादसा

घटना स्थल पर मिली लोहे की रॉड दिखाता युवक।
घटना स्थल पर मिली लोहे की रॉड दिखाता युवक।

अपराध जगत में प्रति दिन एक नया रिकॉर्ड बन रहा है। बेखौफ बदमाशों ने शादी समारोह में सम्मिलित होने जा रहे दंपत्ति को न सिर्फ लूटा, बल्कि दोनों पर प्राण घातक हमला भी किया, जिससे पत्नी की मृत्यु हो गई, वहीं पति की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने लूट और हत्या की जगह सड़क हादसे की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

दर्दनाक व दुःखद वारदात बदायूं जिले के जरीफनगर थाना क्षेत्र की है। जरीफनगर दियोहरा शेखपुर निवासी इजनेश (30) नोयडा के अशोकनगर में रहते हैं और वहां किसी निजी कंपनी में नौकरी करते हैं। गाँव में शादी समारोह में सम्मलित होने के लिए शनिवार की रात पत्नी पूनम (27) के साथ छः वर्ष बाद बाइक से आ रहे थे। बताते हैं कि दिल्ली हाइवे से ही चार अज्ञात बदमाशों ने उनकी बाइक के पीछे बुलेरो दौड़ा दी और गाँव हसनपुर से पहले उन्होंने दोनों को पकड़ लिया।

बदमाशों ने पति व पत्नी पर प्राण घातक वार किये। 30 हजार नकद, झुमकी, चेन आदि लूटने के बाद बदमाश दोनों को मरा समझ कर छोड़ गये, लेकिन इजनेश की सांसें चल रही थीं। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर द्वारा इजनेश को बरेली रेफर कर दिया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है, वहीं पोस्टमार्टम में पूनम के सिर में पांच गंभीर चोटें आई हैं, जो मौत का कारण बनीं। मृतका का मायका बिल्सी थाना क्षेत्र के गाँव दिधौनी में है।

पुलिस ने लूट व हत्या की वारदात का मुकदमा सड़क हादसे की धाराओं में दर्ज किया है, जबकि बाइक बिल्कुल सही है, साथ ही पूनम का शव सड़क से दूर खाई में पड़ा था और पास में ही लोहे की एक रॉड व खून लगे दस्ताने पड़े थे। घटना स्थल के हालात स्पष्ट बता रहे हैं कि लूट व हत्या की जघन्य वारदात है, लेकिन पुलिस जघन्य वारदात को दबाने की नीयत से खुलेआम बदमाशों की मदद करती नजर आ रही है। फिलहाल इनजेश के होश में आने का इंतजार है। सही वारदात के संबंध में इनजेश ही बता पायेगा। शादी की खुशियों में सराबोर परिजन व रिश्तेदार मातम में डूबे नजर आ रहे हैं।

Leave a Reply