सांसद ने विकास कार्यों में तेजी लाने के कड़े निर्देश दिए

विकास भवन स्थित सभाकक्ष में एमएलसी बनवारी सिंह यादव के साथ विकास कार्यों की समीक्षा करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
विकास भवन स्थित सभाकक्ष में एमएलसी बनवारी सिंह यादव के साथ विकास कार्यों की समीक्षा करते सांसद धर्मेन्द्र यादव।
बदायूं की जनता को शीघ्र ही ओवरब्रिज की सौगात मिल जाएगी। कार्यदायी संस्था सेतु निगम के अभियन्ताओं ने सांसद धर्मेन्द्र यादव को बताया कि मई के प्रथम सप्ताह से पूर्व ही ओवरब्रिज का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा, जिस पर सांसद ने कहा तो मई के प्रथम सप्ताह में ही ओवरब्रिज का उद्घाटन कराया जाएगा।
सोमवार को विकास भवन स्थित सभाकक्ष में सांसद धर्मेन्द्र यादव ने विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव, जिलाधिकारी शम्भूनाथ, मुख्य विकास अधिकारी देवेन्द्र सिंह कुशवाहा सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों एवं कार्यदायी संस्थाओं के साथ बैठक कर विभिन्न निर्माण एवं विकास कार्यों की समीक्षा की। कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम एवं एसएन मेडिकल कॉलेज आगरा के डाक्टर व राजकीय मेडिकल कॉलेज के नोडल अधिकारी नीरज यादव के साथ मेडिकल कालेज के निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्यों में तेजी लाएं और अतिशीघ्र ओपीडी का निर्माण कार्य पूरा कर दें, जिससे शीघ्र ही ओपीडी शुरू की जा सके। सांसद ने अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए कॉलेज के नोडल अधिकारी से कहा है कि कार्रवाई शुरू कर दें। बता दें कि कार्यदायी संस्था प्रोजेक्ट कारपोरेशन द्वारा सांसद के प्रयासों से डायट में ऑडीटोरियम  का निर्माण कराया जाएगा। सांसद ने कार्यदायी संस्था पैकफेड के निर्माण कार्यों की गुणवत्ता खराब होने तथा निर्माण कार्य की गति संतोषजनक न पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अर्सिस बर्खिन में बनाए जा रहे माॅडल स्कूल का निर्माण कार्य अतिशीघ्र पूरा किया जाए, जिससे माह जुलाई में शिक्षा सत्र शुरू हो सके, इसके अलावा उन्होंने राजकीय महिला डिग्री कॉलेज, जिला चिकित्सालय में निर्माणाधीन 100 बेड के मैटरनिटी वार्ड, मंडी समिति एवं आरईएस विभाग द्वारा बनाई गई सड़कों, नाधा इंटर कॉलेज, आसरा आवास योजना तथा छोटे बड़े सरकार पर चल रहे निर्माण कार्यों की गहन समीक्षा करते हुए निर्माण कार्यों में तेजी लाने की हिदायत दी। विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव ने विद्युत कनेक्शन चेक करने के नाम पर विभागीय कर्मचारियों द्वारा किसानों को परेशान करने पर नाराजगी जताते हुए हिदायत दी कि यदि किसी स्तर से उन्हें शिकायत प्राप्त हुई तो कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने पैकफेड द्वारा बनाए जा रहे आंगनवाड़ी केन्द्रों की फर्जी रिपोर्टिंग करने पर नाराजगी जताई। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन अशोक कुमार श्रीवास्तव, डीआरडीए के परियोजना निदेशक रामरक्ष पाल सहित अन्य विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं एवं तकनीकी विभागों के अभियन्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply