बिरला व्हाईट सीमेंट पर भारी पड़ी जेके सुपर सीमेंट, भाजपा की फजीहत

बिरला व्हाईट सीमेंट पर भारी पड़ी जेके सुपर सीमेंट, भाजपा की फजीहत

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की भट्टी में तपने के बाद ऐसी सीमेंट बनती है, जिसकी बिल्डिंग वर्षों टिकी रहती है, पर इस दौर में हर चीज की नकल बाजार में मौजूद है। सीमेंट की भी नकल बाजार में आ गई है, जिसकी बिल्डिंग दो-चार वर्ष भी नहीं टिक पाती। बात सीमेंट की नहीं, बल्कि भारतीय जनता पार्टी की है। आम चर्चा है कि बिरला व्हाईट सीमेंट पर अचानक से बाजार में आई जेके सुपर सीमेंट भारी पड़ रही है, जिससे स्वयं सेवक और जन्मना भाजपाई घुटन महसूस कर रहे हैं।

आधुनिक भवन निर्माण में प्रयुक्त होने वाली एक महत्वपूर्ण सामग्री है सीमेंट। सीमेंट कैल्शियम के सिलिकेट और एलुमिनेट यौगिकों का मिश्रण होता है, जो कैल्शियम ऑक्साइड, सिलिका, एल्यूमीनियम ऑक्साइड और लौह आक्साइड से निर्मित होते हैं। चूना पत्थर और मृत्तिका के मिश्रण को एक भट्ठी में उच्च तापमान पर जलाया जाता है, फिर खंगर को जिप्सम के साथ मिलाकर महीन पीसा जाता है, तब सीमेंट तैयार होती है, जिससे मजबूत भवन बनाये जाते हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की सीमेंट बनाने जैसी कड़ी मेहनत का वर्षों बाद परिणाम सामने आया है। भाजपा भारत के एक बड़े हिस्से पर राज कर रही है। भाजपा के हाथ में सत्ता आते ही बड़ी संख्या में लोग अन्य दलों से भाजपा में आ गये, अथवा अचानक से बड़े पद पा गये, ऐसे लोग राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी की कार्य पद्धति के बारे में कुछ नहीं जानते, उनके कार्य करने का तरीका अन्य दलों के नेताओं की तरह ही है, तभी चारों ओर रिश्वतखोरी, तबादलों में दलाली, ठेकेदारी, खनन, सार्वजनिक वितरण की दुकानें और खाद्यान्न में घोटालों की बातें छाई हुई हैं, इसीलिए आम चर्चा के दौरान कहा जाने लगा है कि बिरला व्हाईट सीमेंट पर अचानक से बाजार में जेके सुपर सीमेंट विज्ञापन के सहारे छा गई है।

बिरला व्हाईट सीमेंट और जेके सुपर सीमेंट, दोनों ही बड़े ब्रांड हैं, जिनका भारत की अर्थ व्यवस्था में बड़ा योगदान है। आम लोगों के बीच हो रही चर्चाओं में लोगों का उद्देश्य दोनों ब्रांडों में से किसी को कमतर दर्शाना नहीं है, यहाँ ब्रांडों की फजीहत नहीं, बल्कि लोग अपनी बात कहने के लिए उक्त दोनों ब्रांडों का सहारा लेते नजर आ रहे हैं। लोग बिरला व्हाइट सीमेंट को मूल भाजपा और जेके सुपर सीमेंट को नई, अथवा नकली भाजपा करार दे रहे हैं। लोग यहाँ तक कह रहे हैं कि जेके सुपर सीमेंट पर शीघ्र ही प्रतिबंध नहीं लगाया गया, तो भाजपा रूपी भवन धराशाई हो जायेगा। भाजपा को बर्बाद होते देख रहे स्वयं सेवक और पुराने भाजपाई चिंतित नजर आ रहे हैं, पर कुछ कर नहीं पा रहे, इसलिए घुटन भी महसूस कर रहे हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply