किशोर को बरामद कराने की डीजीपी व मुख्यमंत्री से गुहार

गायब किशोर चंद्रहास सिंह उर्फ चन्दा की फाइल फोटो।
गायब किशोर चंद्रहास सिंह उर्फ चन्दा की फाइल फोटो।

प्रतापगढ़ में रहस्यमय तरीके से गायब हुए किशोर को तीन दिन बीत चुके हैं किसी भी तरह की अनहोनी की आशंका को लेकर उसके परिवार में कोहराम मचा हुआ है, लेकिन पुलिस कछुआ गति छोड़ने को तैयार नहीं है गायब हुए किशोर के पिता की दुस्साहसिक अंदाज में हत्या हुई थी, इसके बावजूद पुलिस घटना को गंभीरता से नहीं ले रही है

उल्लेखनीय है कि प्रतापगढ़ के अष्टभुजा नगर निवासी 17 वर्षीय किशोर चंद्रहास सिंह उर्फ चन्दा 12 अगस्त 2015 को अचानक गायब हो गया था। परिजनों का कहना है कि वह 12 अगस्त की दोपहर में लगभग दो बजे स्कूटी यूपी- 72, AD 0585 से घर से गया था और फिर वापस नहीं आया। उसके मित्रों को भी उसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। वह हरे रंग की टी-शर्ट तथा सफेद रंग की पैंट पहने है।

किशोर की बड़ी बहन रजनी सिंह के प्रार्थना पत्र पर पुलिस ने प्राथमिकी तो दर्ज कर ली है, लेकिन किशोर की बरामदगी को लेकर पुलिस गंभीर नजर नहीं आ रही है, जिससे परिजनों की चिंता बढ़ती जा रही है।

यहाँ यह भी बता दें कि गायब हुए किशोर के पिता भुवनेंद्र बहादुर सिंह उर्फ लल्लन सिंह की 12 मई 2004 को दुस्साहसिक अंदाज में हत्या की गई थी, उन पर प्रतापगढ़ में जिला अस्पताल के पास बम से हमला किया गया था, यह सब जानते हुए पुलिस घटना को गंभीरता से नहीं ले रही है। पीड़ित परिजनों ने पुलिस महानिदेशक व मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप कर चंद्रहास सिंह उर्फ चन्दा को शीघ्र बरामद कराने की गुहार लगाई है।

Leave a Reply