मीट व्यापारियों की मांग पर डीएम ने 20 मई को बुलाई कमेटी की बैठक

जिलाधिकारी से मिलने आये मीट व्यापारी।

बदायूं की जिलाधिकारी अनीता श्रीवास्तव से बुधवार को ऑल इंडिया जमीयतुल कुरैश उत्तर प्रदेश के जिलाध्यक्ष काशिफ अनवार कुरैशी के नेतृत्व में मीट व्यापारी मिले। मीट व्यापारियों ने उच्च न्यायालय के निर्देशों के क्रम में मीट व्यापार शुरू कराने की गुहार लगाई। जिलाधिकारी ने न्यायालय के निर्देशों का अध्ययन करने और मीट व्यापार को लेकर निर्णय लेने के लिए कमेटी की 20 मई को बैठक बुलाई है।

ऑल इंडिया जमीयतुल कुरैश उत्तर प्रदेश के जिलाध्यक्ष काशिफ अनवार कुरैशी ने बताया कि उच्च न्यायालय की लखनऊ खंडपीठ ने याचियों के पक्ष को सुनने के बाद मीट कारोबारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए फूड सेफ्टी एवं स्टैंडर्स एक्ट- 2006 तथा रूल्स- 2011 के अंतर्गत कार्रवाई सुनिश्चित करने का आदेश राज्य सरकार को दिया है, इस पर न्यायालय में 17 जुलाई 2017 को अगली सुनवाई होगी, उससे पहले राज्य सरकार को न्यायालय द्वारा पारित किये गये आदेशों का पालन करना है।

जिलाध्यक्ष काशिफ अनवार कुरैशी ने बताया कि न्यायालय के उक्त आदेशों के क्रम में वे आज जिलाधिकारी से मिले और उन्होंने प्रत्यावेदन देकर मीट व्यापारियों का कारोबार शुरू कराने की गुहार लगाई, जिस पर जिलाधिकारी ने 20 मई को कमेटी की बैठक बुलाई है, जो न्यायालय के आदेशों के क्रम में निर्णय लेगी। उन्होंने कहा कि पिछले दो माह से मीट कारोबार ठप पड़ा है, इस व्यापार से जुड़े परिवार तबाह हो गये हैं। उन्होंने कहा कि नियम व शर्तें पूरी करने वाले व्यापरियों को तत्काल लाइसेंस दे दिए जायें, ताकि वे अपना कारोबार शुरू कर सकें और परिवार का भरण-पोषण कर सकें।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

यह शर्तें पूरी करने के बाद मिल सकता है मीट शॉप का लाइसेंस

Leave a Reply