धोखाधड़ी के मामले में बदायूं के न्यायालय में पेश हुआ विकास

विकास यादव
विकास यादव

नीतीश कटारा का हत्यारा विकास यादव बुधवार को तिहाड़ जेल से धोखाधड़ी के एक मुकदमे में बदायूं स्थित जिला न्यायालय आया और हाजिरी लगा कर चला गया, लेकिन सुबह से न्यायालय परिसर में जमा मीडिया कर्मियों को भनक तक नहीं लगी।

उल्लेखनीय है कि बदायूं जिले में स्थित कस्बा सहसवान के मोहल्ला नया गंज निवासी मुनेश ने वर्ष- 2008 में विकास सहित दो लोगों के विरुद्ध नौकरी के नाम पर एक लाख रूपये ठगने और रुपये मांगने पर जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा लिखाया था। इस मुकदमे में पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट लगा दी, तो वादी ने न्यायालय में प्रोटेस्ट दायर कर दिया, इसी मुकदमे में बुधवार को विकास यादव की पेशी थी।

मीडिया कर्मियों को सुबह ही पता चल गया कि विकास यादव बदायूं आने के लिए तिहाड़ जेल से निकल गया है, तो तमाम मीडिया कर्मी सुबह ही न्यायालय के आसपास जमा हो गये। विकास यादव को बदायूं स्थित सीजेएम- प्रथम के न्यायालय में पेश होना था, लेकिन सीजेएम- प्रथम के अवकाश पर होने के कारण प्रभारी सीजेएम- द्वितीय के न्यायालय में विकास ढाई बजे के बाद आया और हाजिरी दर्ज करा कर चला गया, जबकि मीडिया कर्मी सीजेएम- प्रथम के न्यायालय के सामने ही जमे रहे। इस प्रकरण में अब 8 जनवरी की तारीख लगाई गई है।

कुख्यात डीपी यादव के बेटे और भतीजे को नहीं मिली राहत

बाहुबलि और धनबलि डीपी यादव पर एक और मुकदमा

बाहुबलि व धनबलि नेता डीपी को लेकर बवाल, भाजपा मौन

उच्चतम न्यायालय की शरण में गईं उमलेश यादव

Leave a Reply