अवैध कब्जे पर डीएम ने तत्काल कराई कार्रवाई, दबंग नूरुद्दीन की फजीहत

अवैध खनन के द्वारा लाई जा रही मिटटी।

बदायूं जिले में स्थित सहसवान के पालिकाध्यक्ष नूरुद्दीन की दबंगई पर अंकुश लगने की शुरुआत हो चुकी है। दबंग नूरुद्दीन एक भू-खंड पर कब्जा कर रहा था, तभी पीड़ित जिलाधिकारी की शरण में पहुंच गया। प्रकरण संज्ञान में आते ही ही जिलाधिकारी ने तत्काल कार्रवाई करा दी, जिससे नूरुद्दीन की जमकर फजीहत हो रही है।

सहसवान में प्रमोद इंटर कॉलेज के निकट मोहल्ला देहलीज निवासी अनवर उर्फ बाबा की जमीन है, जिस पर दबंग नूरुद्दीन कब्जा करना चाह रहा था। सपा सरकार में नूरुद्दीन की तूती बोलती थी, सो पीड़ित की पुलिस-प्रशासन ने नहीं सुनी, तो वह न्यायालय की शरण में चला गया। पीड़ित के प्रार्थना पत्र पर न्यायालय ने स्टे दे दिया। पालिका चुनाव निकट आते देख नूरुद्दीन को अहसास हुआ होगा कि वह इस बार नहीं जीत सकेगा, सो पद पर रहते हुए ही अधिक से अधिक जमीन कब्जाने में जुट गया है।

बताते हैं कि अवैध खनन के द्वारा मिटटी व रेत मंगवा कर खुलेआम पालिका की जेसीबी से भू-खंड पर काम कराने लगा। स्थानीय पुलिस-प्रशासन दबंग नूरुद्दीन के प्रभाव में रहता है, सो पीड़ित बाबा सीधे जिलाधिकारी अनीता श्रीवास्तव की शरण में पहुंच गया। प्रकरण संज्ञान में आते ही जिलाधिकारी ने सहसवान कोतवाली पुलिस और राजस्व विभाग की टीम को बीस मिनट के अंदर मौके पर भेज दिया। सूत्रों का कहना है कि पुलिस के किसी चापलूस ने नूरुद्दीन को सूचना दे दी, तभी टीम पहुंचने से पहले जेसीबी हटा दी गई। टीम ने मौके पर मिले लोगों को खदेड़ दिया और कड़ी चेतावनी दी कि भविष्य में कोई कब्जा करने आया, तो उसे मुकदमा लिख कर जेल भेज दिया जायेगा। जिलाधिकारी की कार्रवाई से पीड़ित खुश है, वहीं नूरुद्दीन की सहसवान व क्षेत्र में जमकर फजीहत हो रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

भू-खंड कब्जाने का वीडियो देखें

Leave a Reply