एसी कार से उतर कर एसी मंच पर बैठे मंत्री, किसान के पंखे बने गमछा

बदायूं जिले के किसानों को ऋण माफ करने के प्रमाण पत्र ऐसे दिए गये, जैसे प्रशासन उन पर कोई बहुत बड़ा अहसान कर रहा है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी वीवीआईपी कल्चर समाप्त करने के निर्देश दे चुके हैं, इसके बावजूद स्थानीय प्रशासन ने नेताओं और स्वयं के लिए मंच पर एसी की व्यवस्था कर रखी थी, साथ ही मंच पर ब्रांडेड पदार्थ रखे थे, जिन्हें राजदरबार की तरह वेटर परोस रहा था, लेकिन किसान हवा और पानी को भी तरसते नजर आ रहे थे। निर्धारित समय से तीन घंटे देर से पहुंचे समारोह के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश सरकार के श्रम समन्वय एवं सेवा योजन विभाग के कैबिनेट मंत्री तथा जनपद के प्रभारी मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने अफसरों की निंदा करने की जगह कहा कि चौबीस घंटे खून-पसीना बहाने वाले किसान के लिए गर्मी मायने नहीं रखती। इससे पहले हाफिज सिद्दीक इस्लामिया इंटर कॉलेज में 32 लाभार्थियों को अपने हाथ से प्रमाण पत्र बांट कर स्वामी प्रसाद मौर्य ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। जनपद के कुल 1 लाख 30 हजार 426 किसानों में से प्रथम चरण में 28 हजार 849 किसानों का ऋण माफ हुआ, जिसमें से पांच हजार किसानों को आज ऋण मोचन प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।
सोमवार को जिला मुख्यालय पर जनपद के प्रभारी मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने लघु एवं सीमान्त किसानों को प्रमाण पत्र वितरित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रथम कैबिनेट की बैठक में फैसला लिया था कि एक लाख रुपए तक माफ किए जायें। उन्होंने कहा कि जो किसान इस कार्यक्रम में प्रमाण-पत्र वितरण से वंचित रह जाते हैं, उन्हें तहसील मुख्यालय पर कैम्प लगाकर क्षेत्रीय विधायकों तथा अधिकारियों के माध्यम से वितरित कराये जायें। उन्होंने कहा कि सरकार का कहना है कि कोई भी पात्र किसान इस योजना से वंचित नहीं रहेगा। यह योजना जब तक चलती रहेगी, जब तक प्रत्येक किसान प्रमाण-पत्र प्राप्त नहीं कर लेगा।
उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का कहना है कि 2022 तक किसानों की आय दो गुना की जाएगी और कोई भी गरीब किसान प्रधानमंत्री आवास से वंचित नहीं रहेगा। 23 हजार 883 के सापेक्ष 164.26 करोड़ रुपया किसानों का माफ हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने यह पैसे अनावश्यक खर्चों को रोककर किसानों के हित में लगाये हैं। किसान हमारे देश के अन्नदाता हैं। उनकी मदद के लिए हमारी सरकार वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों को फसल ऋण के लिए बिना भेदभाव के यह कदम उठाया है। सरकार का कहना है कि सबका साथ-सबका विकास, उसी तरीके से काम कर रहे हैं।
समारोह में क्षेत्रीय कमेटी के अध्यक्ष बीएल वर्मा, उपाध्यक्ष जेके सक्सेना, जिला प्रभारी भाजपा महाराज सिंह, जिलाध्यक्ष हरीश कुमार शाक्य, विधायक राजीव कुमार सिंह “बब्बू”, धर्मेंद्र कुमार शाक्य “पप्पू”, आरके शर्मा, पूर्व विधायक प्रेम स्वरूप पाठक, भाजयुमो जिलाध्यक्ष अंकित मौर्य, भाजपा युवा नेता विश्वजीत गुप्ता, दीपमाला गोयल सहित अन्य तमाम स्थानीय पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।
समारोह में बोलते स्वामी प्रसाद मौर्य एवं मंचासीन भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी, विधायक व डीएम-एसएसपी।
अंत में जिलाधिकारी अनिता श्रीवास्तव ने कहा कि जो पात्र किसान इस योजना से वंचित रह गए हैं, वह अपना कार्ड बनवाकर अपने बैंक खाते में लिंक करवाकर ऋण मोचन योजना का लाभ उठाएं। सीडीओ शेषमणि पांडेय और एसएसपी चन्द्रप्रकाश के साथ जिले सभी अफसर उपस्थित रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply