राज्यमंत्री और सीओ पर अप्राकृतिक यौन शोषण का आरोप

नवनियुक्त ग्राम्य विकास राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव
नवनियुक्त ग्राम्य विकास राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव

नवनियुक्त ग्राम्य विकास राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव और सीओ, एसओ सहित एक अज्ञात व्यक्ति पर अप्राकृतिक यौन शोषण करने, लूटने, जहर देने और मारपीट करने के साथ धमकाने का आरोप लगा है। आरोप लगाने वाले व्यक्ति की पत्नी इससे पहले राज्यमंत्री के बेटे पर यौन शोषण का आरोप लगा चुकी है। आरोप लगाने वाले व्यक्ति की किसी से भी अनबन हो जाये, तो यह स्वयं, अथवा पत्नी से सीधे यौन शोषण का ही आरोप लगवाता है। आरोप लगाने वाला व्यक्ति क्षेत्र में कुख्यात है, जिससे समूचे इलाके में इसकी दहशत बताई जाती है, साथ ही इसकी पत्नी यौन शोषण के आरोपी पूर्व गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद की रखैल भी बताई जाती है।

बदायूं जिले में स्थित उघैती थाना क्षेत्र के गाँव करियामई निवासी युवक ने मुख्य न्यायायिक दंडाधिकारी- बदायूं के समक्ष दिए प्रार्थना पत्र में सहसवान विधान सभा क्षेत्र के विधायक व प्रदेश के नवनियुक्त ग्राम्य विकास राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव, बिल्सी क्षेत्र के सीओ जगदीश सिंह, उघैती के निवर्तमान एसओ नरेश पाल सिंह यादव व एक अज्ञात व्यक्ति पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं। आरोप है कि वह 3 दिसंबर 2014 को दावत खाने जा रहा था, तभी थानाध्यक्ष नरेश पाल सिंह पुलिस वालों के साथ आये और उसकी सोने की अंगूठी, मोबाइल व 1445 रूपये कब्जे में लेने के बाद थाने ले गये, जहाँ सहसवान विधान सभा क्षेत्र के विधायक व हाल में प्रदेश के ग्राम्य विकास राज्यमंत्री बने ओमकार सिंह यादव और सहसवान क्षेत्र के सीओ जगदीश सिंह मौजूद थे, दोनों ने थानाध्यक्ष के आवास में उसका यौन शोषण किया, इसके बाद हवालात में उसे उक्त तीनों के साथ एक अज्ञात व्यक्ति ने जहर पिलाया।

उक्त आरोप की जानकारी होने पर लोग स्तब्ध हैं। यहाँ यह भी बता दें कि राज्यमंत्री, सीओ और एसओ पर आरोप लगाने वाले व्यक्ति की पत्नी राज्यमंत्री के बेटे व डीसीबी के अध्यक्ष बृजेश यादव सहित कई अन्य पर यौन शोषण का आरोप लगा चुकी है, जो विभिन्न स्तरों पर हुई जाँच में फर्जी पाया गया, अब पति ने अपने यौन शोषण का आरोप लगाया है। बताते हैं कि आरोप लगाने वाले व्यक्ति की पत्नी यौन शोषण के आरोपी चिन्मयानंद की रखैल है। यह भी बताया जाता है कि इसकी पत्नी जब से चिन्मयानंद की रखैल बनी है, तब से इस व्यक्ति के परिवार की समूचे क्षेत्र में दहशत व्याप्त हो गई है, क्योंकि थोड़ी सी अनबन होते ही इस परिवार की महिलायें किसी पर भी सीधा यौन शोषण का आरोप लगाती हैं, जिससे इस व्यक्ति व इसके परिवार से सभी दूर ही रहना पसंद करते हैं। बताते हैं कि चिन्मयानंद इस परिवार की आर्थिक और राजनैतिक तौर पर मदद करता रहा है, जिससे पूरा परिवार दुस्साहसी व आतंकी हो गया है।

संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

सपा नेता, सीओ और पत्रकार पर यौन शोषण का आरोप

Leave a Reply