डीपीसी की बैठक में प्रोटोकॉल के अनुसार नहीं बैठाये प्रतिनिधि

  • राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव ने नलकूपों का मुददा उठाया
  • सांसद प्रतिनिधि विपिन यादव ने लापरवाहों को दी चेतावनी
जिला योजना समिति की बैठक में उपस्थित प्रभारी मंत्री रामकरन आर्य, दाईं ओर दर्जा राज्यमंत्री आबिद रजा, बाईं ओर दर्जा राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव, राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मधू चन्द्रा और विधायक आशुतोष मौर्य।
जिला योजना समिति की बैठक में उपस्थित प्रभारी मंत्री रामकरन आर्य, दाईं ओर दर्जा राज्यमंत्री आबिद रजा, बाईं ओर दर्जा राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव, राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मधू चन्द्रा और विधायक आशुतोष मौर्य।
बदायूं में आज विकास भवन के सभागार में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित हुई, जिसमें जनप्रतिनिधियों को प्रोटोकॉल और वरिष्ठताक्रम के अनुसार नहीं बैठाया गया। प्रोटोकॉल और वरिष्ठताक्रम के अनुसार प्रभारी मंत्री एवं समिति के अध्यक्ष के बराबर एक ओर राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव और दूसरी ओर जिला पंचायत अध्यक्ष को बैठाना था, लेकिन इन दोनों को प्रभारी मंत्री से दूर बैठाया गया। हांलाकि बैठने को लेकर किसी ने कोई आपत्ति नहीं की। राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव बेहद उदार हैं और इस तरह के कृत्यों पर ध्यान तक नहीं देते, ऐसे ही जिला पंचायत अध्यक्ष मधू चन्द्रा भी बेहद सादगी वाली महिला हैं, सो उन्होंने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया, लेकिन इस सबको लेकर विकास भवन में कर्मचारियों के बीच चर्चा बनी रही।
प्रदेश के खेल, युवा कल्याण, वाह्य सहायतित परियोजना एवं समग्र ग्राम विकास विभाग एवं जनपद प्रभारी राज्यमंत्री राम करन आर्य की अध्यक्षता में जिला योजना समिति बैठक में वित्तीय वर्ष- 2016-17 के लिए जनपद के नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में 3370 हैण्ड पम्प लगाने, दो हजार हैण्ड पम्पों का रीबोर कराने के साथ ही 5752 इन्दिरा आवास एवं 937 लोहिया आवास के निर्माण, आठ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का भवन निर्माण और स्थापना, चार सीएचसी की स्थापना के अलावा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पांच-पांच आयुर्वेदिक चिकित्सालयों तथा पांच आयुर्वेदिक एवं यूनानी, पांच होम्योपैथिक चिकित्सालयों का निर्माण कराने हेतु जिला योजना में प्रस्ताव रखा गया। डॉक्टर राम मनोहर लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना के तहत 20.02 किलोमीटर रोड, केसी ड्रेन का निर्माण, बुर्रा अहिरवारा में शिव मंदिर, खेड़ा नवादा स्थित सागर ताल एवं सूर्यकुण्ड का पर्यटन विकास तथा 79.08 किलोमीटर नवीन ग्रामीण सड़कों का निर्माण एवं 45.14 किलोमीटर ग्रामीण मार्गों का पुर्ननिर्माण कराने के लिए जिला योजना के सभी प्रस्तावों को सर्व सम्मति से हरी झण्डी मिल गई है।
जिला पंचायत की अध्यक्ष मधु चन्द्रा की उपस्थिति में आयोजित बैठक में समिति के समक्ष 36 विभागों के कुल 44 सेक्टर का कुल 386.96 करोड़ का परिव्यय जिला योजना अन्तर्गत वित्तीय वर्ष- 2016-17 के लिए प्रस्तुत किया गया, जिसे सर्व सम्मति से अनुमोदित किया गया। शासन के निर्देशानुसार गत वित्तीय वर्ष- 2015-16 में जिला योजना समिति द्वारा 388.57 करोड़ का परिव्यय अनुमोदित किया गया था, जो गत वर्ष की जिला योजना के सापेक्ष चालू वर्ष की जिला योजना का अनुमोदन लगभग एक करोड़ 61 लाख रूपए कम है। जिला योजना समिति के सदस्यों ने सम्बंधित अधिकारियों द्वारा कराए गए विकास कार्यों एवं लाभार्थियों की सूचियां उपलब्ध न कराने पर नाराजगी जताई, जिस पर जनपद प्रभारी मंत्री ने तीन दिन के अन्दर जनप्रतिनिधियों को सूचियां उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। प्रदेश के ग्राम्य विकास विभाग के राज्यमंत्री ओमकार सिंह यादव ने लम्बे अर्से से खराब पड़े सरकारी नलकूपों को ठीक न कराने एवं गांवों में सौर ऊर्जा की लाइटें सार्वजनिक स्थलों पर न लगाए जाने पर नाराजगी जताई। पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम के अध्यक्ष, दर्जा राज्यमंत्री बनवारी सिंह यादव, बिसौली के विधायक आशुतोष मौर्या, शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने जनपद में 1201 में 93 राजकीय नलकूप खराब होने, जल निगम की पेयजल पाइप लाइन परियोजनाएं भली-भांति कार्य न करने पर कड़ा असंतोष व्यक्त किया, जिस पर जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने खराब नलकूपों को एक सप्ताह में ठीक कराने के निर्देश दिए। शहर विधायक, वक्फ विकास निगम के अध्यक्ष आबिद रजा ने आजीविका मिशन के तहत समूह गठन में बेहतर कार्य कराने तथा समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में सुधार आने की प्रशंसा की, वहीं उन्होंने जिला चिकित्सालय तथा महिला चिकित्सालय में व्यक्त अव्यवस्थाओं में सुधार कराए जाने की अपेक्षा की। उन्होंने मरीजों को ब्लड की व्यवस्था कराने और एम्बुलेंस सेवा को बेहतर बनाए जाने के साथ ही अनावश्यक रूप से मरीजों को बरेली रैफर न करने पर विशेष वल दिया। उन्होंने इमरजेंसी के दूरभाष को चालू कराने और उसमें सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने का भी सुझाव दिया। बिल्सी के विधायक हाजी मुसर्रत अली ने कई सड़कों की मरम्मत कराने और विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण वर्ष- 2013 में हाईटेंशन लाइन गिरने के से ग्राम नसीरपुर में हुई एक व्यक्ति की मृृत्यु के मामले में अभी तक मुआवजा न मिलने पर नाराजगी व्यक्त की, जिस पर जनपद प्रभारी मंत्री ने 23 मई से पूर्व समाधान कराने की हिदायत दी।
सांसद धर्मेन्द्र यादव के प्रतिनिधि विपिन यादव ने कहा कि जो अधिकारी शासकीय कार्यों में लापरवाही बरतेगा, उसका जनपद से स्थानान्तरण करा दिया जाएगा। बसपा विधायक सिनोद कुमार शाक्य “दीपू” बैठक में नहीं आये, जिससे उनकी कुर्सी पर समिति के नामित सदस्य सुरेश पाल सिंह चौहान बैठ गये, उन्होंने बैठक का एजेन्डा न मिलने पर आपत्ति जताई। जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने सभी जनप्रतिनिधियों का स्वागत किया और परिचय के बाद बैठक शुरू हुई। उन्होंने आश्वासन दिया कि सुझावों और निर्देशों का अक्षरशः पालन कराया जाएगा। मुख्य विकास अधिकारी प्रताप सिंह भदौरिया ने अन्त में सभी जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर आंवला क्षेत्र के सांसद के प्रतिनिधि जितेन्द्र कश्यप, सांसद धर्मेन्द्र यादव के प्रतिनिधि अवधेश यादव, अमृत लाल, नीरज कुमार, बलवीर सिंह यादव सहित सभी समिति सदस्य मौजूद रहे।
संबंधित खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

Leave a Reply