कोर्ट से फरार चल रहे पूर्व दर्जा राज्यमंत्री ने गायब कर दी लाश

 पूर्व दर्जा राज्यमंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल
पूर्व दर्जा राज्यमंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल

बदायूं जिले के कस्बा उझानी निवासी समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व दर्जा राज्यमंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल पहले से ही फरार चल रहे हैं, अब उन पर लाश गायब करने का सनसनीखेज आरोप लगा है। एक डॉक्टर सहित विमल कृष्ण अग्रवाल को आरोपी बनाते हुए उझानी के ही एक व्यक्ति ने सीजेम के न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया है।

कस्बा उझानी के मोहल्ला अहीर टोला निवासी विजय पाल पुत्र झंडू द्वारा न्यायालय में धरा- 156 (3) के अंतर्गत दिए गये प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया गया है कि डॉ. संजीव गुप्ता द्वारा गलत इंजेक्शन लगाये जाने के कारण उसके पुत्र रामप्रसाद की मृत्यु हो गई। आरोपी डॉक्टर विमल कृष्ण अग्रवाल का रिश्तेदार है, जिससे वे गाड़ी लेकर क्लीनिक पर पहुंच गये और फिर दोनों लोग गाड़ी में डाल कर लाश ले गये। बाद में पूछने पर उन्होंने बताया कि लाश जलवा दी गई है।

पीड़ित ने आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई करने हेतु पुलिस व प्रशासन के साथ शासन स्तर तक पत्राचार किया, लेकिन उसके प्रार्थना पत्र पर कार्रवाई नहीं की गई, तो उसने सीजेएम के न्यायालय में वाद दायर किया। प्रार्थना पत्र पर सुनवाई अब 24 अगस्त को होगी।

यहाँ यह भी बता दें कि विमल कृष्ण अग्रवाल सदर क्षेत्र से विधायक रहे हैं एवं वे कई मुकदमों में पहले से ही फरार चल रहे हैं, लेकिन शासन ने उनके मुकदमे वापस लेने की संस्तुति कर दी है, जिस पर 23 अगस्त को सुनवाई होनी है।

Leave a Reply