बदायूं मेडिकल काॅलेज में ओपीडी शीघ्र शुरू करने के निर्देश

मुख्य सचिव आलोक रंजन
मुख्य सचिव आलोक रंजन
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने निर्देश दिये हैं कि आगामी अक्टूबर, 2016 तक लखनऊ कैंसर संस्थान को प्रारम्भिक रूप से संचालन के लक्ष्य को दृष्टिगत रखते हुए निर्धारित माइल स्टोन के अनुसार कार्यों को निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ प्रत्येक दशा में पूर्ण कराना होगा। उन्होंने यह भी निर्देश दिये हैं कि बदायूं मेडिकल काॅलेज में ओ.पी.डी. का संचालन वर्तमान जुलाई माह के अंत तक अवश्य कराया जाना सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कहा कि बांदा मेडिकल काॅलेज हेतु नियमानुसार आवश्यक उपकरणों की खरीद प्रक्रिया पारदर्शिता के साथ सुनिश्चित कराते हुए ये प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराना होगा कि आगामी शैक्षिक सत्र से प्रवेश प्रक्रिया प्रारम्भ कराकर कक्षायें शुरू करा दी जायें। उन्होंने कहा कि लायन सफारी में वृक्षारोपण हेतु विस्तृत योजना तैयार कर अग्रिम मृदा का कार्य शीघ्रता से कराते हुये आगामी वर्षाकाल में वृक्षारोपण का कार्य व्यापक रूप से कराया जाये। उन्होंने कहा कि पी.सी.सी.एफ. द्वारा 147 करोड़ रुपये की संशोधित अतिरिक्त विस्तृत परियोजना रिपोर्ट का विस्तृत परीक्षण कर सक्षम स्तर से अनुमोदन प्राप्त कर तत्काल अग्रिम कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये।
मुख्य सचिव आज लखनऊ में शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रोजेक्ट मानीटरिंग ग्रुप बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ट्रांसगंगा परियोजना में आवंटन की कार्यवाही नियमानुसार आगामी 15 अगस्त तक पूर्ण कराते हुये आगामी 31 अक्टूबर, 2016 तक अवस्थापना सुविधाओं का विकास कार्य सुनिश्चित कराना होगा। उन्होंने कहा कि मैत्रेय परियोजना हेतु टास्क फोर्स द्वारा लिये गये निर्णय के अनुसार आगामी 01 माह में लीज डीड की कार्यवाही को अन्तिम रूप दे दिया जाये। उन्होंने 100 शैय्यायुक्त मेटरनिटी विंग को आगामी फरवरी, 2016 तक संचालित कराने हेतु ड्राफ्ट आर.एफ.पी. यथाशीघ्र प्रस्तुत किया जाये। उन्होंने कहा कि 100 शैय्यायुक्त चिकित्सालयों के संचालन हेतु आवश्यकतानुसार पदों एवं उपकरणों की खरीद यथा-शीघ्र सुनिश्चित करा ली जाये, ताकि निर्माण कार्य पूरे होते ही संचालन प्रत्येक दशा में प्रारम्भ हो जाये। उन्होंने कहा कि पूर्ण 09 ट्राॅमा सेण्टरों का संचालन आगामी 01 माह में सुनिश्चित कराने हेतु ड्राफ्ट आर0एफ0पी0 एवं अन्तिरिम व्यवस्था के संचालन हेतु आवश्यक कार्यवाही प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करायी जाये।
श्री रंजन ने जिला मुख्यालयों को फोर लेन सड़कों से जोड़े जाने के कार्यों की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि जनपद कौशाम्बी एवं श्रावस्ती को फोर लेन से जोड़ने का कार्य अक्टूबर, 2015 तक गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाये। उन्होंने कहा कि फर्रुखाबाद को आगामी माह जुलाई, 2016, भदोही को मार्च, 2016 तथा देवरिया एवं कासगंज को फोर लेन से जोड़ने का कार्य आगामी अक्टूबर, 2016 तक प्रत्येक दशा में पूर्ण कराना होगा। बैठक में सम्बन्धित विभागों के प्रमुख सचिव एवं सचिव मुख्यमंत्री पार्थ सारथी सेन शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply