लापरवाह डीएचओ का डीएम ने काटा वेतन, चुनाव में ड्यूटी नहीं कटेगी

बिल्सी में शिकायतें सुनते डीएम पवन कुमार, साथ में मौजूद हैं तेजतर्रार और युवा एसडीएम विधान जायसवाल।

बदायूं जिले की तहसील बिल्सी में आयोजित किये गये तहसील दिवस में जिलाधिकारी के संज्ञान में लाया गया कि ग्राम मूसापुर के परिषदीय विद्यालय में तैनात प्रधानाध्यापक रामपाल की सितम्बर, 2008 में मृत्यु हो चुकी है, लेकिन बेसिक शिक्षा कार्यालय से सेवा पुस्तिका गायब होने से मृतक के वारिस पुत्र संजीव कुमार सिंह को आठ वर्ष बाद भी बीमा का भुगतान नहीं मिल सका है। जिलाधिकारी पवन कुमार ने बीएसए को तलब कर दोषी बाबुओं के विरूद्ध कठोर कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए शीघ्र ही बीमा भुगतान कराने के़े निर्देश दिए हैं।

मंगलवार को बिल्सी में आयोजित किये गये तहसील दिवस में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ जिलाधिकारी पवन कुमार ने जनता की शिकायतों, समस्याओं को सुना। तहसील दिवस में विभिन्न विभागों से सम्बंधित कुल 78 शिकायतें प्राप्त हुईं, जिसमें 20 शिकायतों का मौके पर निस्तारण कराया गया। सबसे अधिक विद्युत, कोटेदारों की मनमानी एवं राजस्व विभाग से सम्बंधित भूमि विवादों की शिकायतें प्राप्त हुईं। बिल्सी के मोहल्ला महलोली निवासी देव सिंह यादव ने शिकायत की कि सर्व यूपी ग्रामीण बैंक खितौरा द्वारा गलत तरीके से अधिक ब्याज राशि वसूलने सम्बंधी वह कई बार तहसील दिवस में शिकायती पत्र दे चुका है, लेकिन अब समस्या का समाधान नहीं हुआ है, वहीं दूसरी ओर बिल्सी के मोहल्ला नम्बर आठ निवासी एलकार ने शिकायत की वह दो वर्ष से राजकीय नलकूप की क्षतिग्रस्त नाली ठीक कराने हेतु प्रार्थना पत्र दे चुका है, लेकिन अब तक ठीक नहीं कराई गई है, यह दोनों शिकायतें डीएम के सामने आते ही उनके तेवर तल्ख हो गए। डीएम ने दोनों शिकायतों के निस्तारण की रिपोर्ट तलब की, तो तहसील स्तरीय सम्बंधित अधिकारी चकरा गए। डीएम ने एलडीएम और नलकूप विभाग के अधिशासी अभियन्ता को अपने सम्मुख तलब कर जवाबदेही तय करते हुए सख्त हिदायत दी कि गुणवत्ता परक शिकायतों का निस्तारण न होने के कारण ही तहसील दिवस में बार-बार फरियादी आते हैं, इसलिए दोनों शिकायतों का अविलम्व गुणवत्ता परक निस्तारण सुनिश्चित किया जाए, अन्यथा कार्रवाई तय है।

तहसील दिवस में जिला उद्यान अधिकारी आरएन वर्मा के अनुपस्थित पाए जाने पर डीएम ने जवाब-तलब कर एक दिन के वेतन कटौती के निर्देश दिए हैं। बिल्सी निवासी शेर सिंह ने शिकायत की कि वह नलकूप विभाग से नलकूप आपरेटर के पद से नवम्बर, 16 में सेवानिवृत्त हुआ है और उसके कार्यालय के बाबू मुनेन्द्र कुमार एवं मोहित कुमार सक्सेना के कहने पर कोषागार के बाबू अकरम हुसैन जीपीएफ का भुगतान नहीं कर रहे हैं। डीएम ने नलकूप विभाग के अधिशासी अभियन्ता तथा मुख्य कोषाधिकारी को निर्देश दिए हैं कि दोषी बाबुओं के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करते हुए शीघ्र भुगतान कराएं।

बुजुर्ग को कम्बल भेंट करते डीएम पव कुमार।

डीएम ने गरीबों को बांटे कम्बल
तहसील बिल्सी में आयोजित तहसील दिवस में फरियाद लेकर आने वालों की स्थिति को भांपते हुए जिलाधिकारी पवन कुमार ने 11 गरीबों को कम्बल ओढ़ाए और एसडीएम विधान जयसवाल को निर्देश दिए कि तहसील में आने जाने वालों पर नज़र रखें, सर्द रातों को दृष्टिगत रखते हुए उनकी स्थिति के अनुसार कम्बल अवश्य उपलब्ध करा दें। उन्होंने कहा कि इसके अलावा एसडीएम, तहसीलदार बालक राम और नायब तहसीलदार राधेश्याम शर्मा देर रात्रि में निकलकर गरीबों की तलाश कर उनको कम्बल ओढ़ाएं। जिलाधिकारी ने आवश्यकतानुसार अलाव जलवाने तथा रैन बसेरा भी बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि मानवीय दृष्टि से भी इस कार्य का वरीयता दी जाए।

चुनाव में नहीं कटेगी चुनाव डयूटी

जिला निर्वाचन अधिकारी पवन कुमार ने दो टूक शब्दों में कहा है कि विधान सभा सामान्य निर्वाचन में किसी अधिकारी एवं कर्मचारी की किसी भी दशा में डयूटी नहीं काटी जाएगी। उन्होंने बिल्सी में आयोजित तहसील दिवस में जिला स्तरीय अधिकारियों को आगाह करते हुए कहा कि किसी कर्मचारी की चूनाव डयूटी काटने की किसी भी दशा में संस्तुति न की जाए। उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि कोई अधिकारी कर्मचारी दिव्यांग होने को आधार बनाकर चुनाव डयूटी कटना चाहेगा तो भी उसकी डयूटी नहीं काटी जाएगी, इतनी रियायत अवश्य दी जाएगी कि उसको उसी स्तर का काम दिया जाए लेकिन डयूटी से किसी दशा में मुक्त नहीं किया जाएगा।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.