पुलिस-प्रशासन ने निरस्त नहीं किये सपा प्रत्याशी विमल कृष्ण के शस्त्र लाइसेंस

विमल कृष्ण अग्रवाल

बदायूं जिले के बिल्सी विधान सभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी विमल कृष्ण अग्रवाल पर गंभीर धाराओं में न सिर्फ मुकदमें दर्ज हैं, बल्कि पुलिस विवेचना में आरोप भी सिद्ध कर चुकी है, इसके बावजूद उनके शस्त्र लाइसेंस निरस्त नहीं किये गये हैं, जबकि हाल ही में डीएम ने 24 शस्त्र लाइसेंस निरस्त किये हैं, इनमें एक लाइसेंस सिर्फ इसलिए निरस्त कर दिया गया कि उसने खुशी में हवाई फायर कर दिया था।

जी हाँ, विमल कृष्ण अग्रवाल के विरुद्ध अलग-अलग धाराओं में चार मुकदमें दर्ज हैं, जिनमें पुलिस विवेचना के बाद न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है और न्यायालय में सुनवाई चल रही है। समस्त मुकदमों में वादी राज्य सरकार है, इसके बावजूद पुलिस-प्रशासन ने विमल कृष्ण अग्रवाल के शस्त्र लाइलेंस निरस्त नहीं किये, उन पर आज भी रिवाल्वर, रायफल और बंदूक का लाइसेंस है, जबकि आम आदमी पर साधारण धाराओं में मुकदमा दर्ज हो जाये, तो उसका लाइसेंस जब्त कर लिया जाता है।

हाल ही में डीएम ने जिले में 24 लाइसेंस निरस्त किये हैं, जिनमें एक लाइसेंस सिर्फ इसलिए निरस्त कर दिया गया कि लाइसेंसधारी ने खुशी में हवाई फायर कर दिया था। यह भी बता दें कि विमल कृष्ण अग्रवाल इंटर पास हैं, लेकिन स्वयं को बीए प्रथम वर्ष उत्तीर्ण बताते हैं, उनका खास गुण करोड़पति होना है, जिसके बल पर पुलिस-प्रशासन उन्हें कानून से हट कर सुविधा देता आ रहा है, क्योंकि वारंट जारी होने पर भी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

कोर्ट से फरार चल रहे पूर्व दर्जा राज्यमंत्री ने गायब कर दी लाश

वारंट के बावजूद पूर्व दर्जा राज्यमंत्री को नहीं पकड़ पा रही पुलिस

केरोसिन माफिया ने बिल्सी क्षेत्र के कथित ठाकुर नेता को दस लाख में खरीदा

Leave a Reply