केन्द्रीय मंत्री साध्वी निरंजन को नहीं दी सुरक्षा, अफसरों से शिकायत

केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति
केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति को पुलिस ने स्कॉट तक उपलब्ध नहीं कराया, जिससे उन्हें बिना सुरक्षा के ही रवाना होना पड़ा। पुलिस के व्यवहार से नाराज साध्वी ने उच्च स्तरीय अफसरों से नाराजगी जाहिर कर दी है, जिससे पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।
भारतीय जनता पार्टी की परिवर्तन यात्रा का नेतृत्व करते हुए केन्द्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति गुरूवार को बदायूं पहुंची, इस दौरान यात्रा विभिन्न स्थानों पर गई। बिसौली सर्किल की पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया नहीं कराई, जिससे संभल जिले की ओर उन्हें बिना स्कॉट के ही जाना पड़ा। सूत्रों का कहना है कि साध्वी को स्कॉट बिलारी के आसपास जाकर मिल सका।
पुलिस के व्यवहार से नाराज साध्वी निरंजन ने फोन पर विभाग के उच्च स्तरीय अफसरों से नाराजगी जाहिर कर दी है, जिसे पुलिस अफसरों ने गंभीरता से लिया है। सूत्रों का कहना है कि स्थानीय पुलिस से स्पष्टीकरण माँगा गया है। जवाब संतोषजनक न होने पर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई भी हो सकती है।
भाजपा की राष्ट्रीय स्तर की नेता, परिवर्तन यात्रा के साथ आई केन्द्रीय मंत्री के अपमान पर भी भाजपाईयों को ग्लानी नहीं हुई। साध्वी निरंजन की चापलूसी करने में तो कई नेता जुटे रहे, लेकिन उनका अपमान होने पर किसी ने कुछ नहीं किया।
उधर साध्वी निरंजन ज्योति ने गुरुवार को बदायूं में कहा कि महिलाओं को पैर की जूती समझने वाले लोग ही तीन तलाक के पक्ष में है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तीन तलाक और हलाला जैसी महिला विरोधी कुप्रथाओं के विरुद्ध है। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया है, जिसका भाजपा समर्थन करती है। साध्वी ने कहा भाजपा शुरू से ही मुस्लिम बहनों को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। भाजपा का तीन तलाक और हलाला जैसी अमानवीय क्रूर परंपराओं के विरुद्ध स्पष्ट विचार हैं। उन्होंने सपा-बसपा और कांग्रेस पर भी हमला किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.