हत्या कर आँखें फोड़ीं, फायरिंग से दहशत, विधवा की हत्या

फायरिंग में क्षतिग्रस्त हुई गाड़ी।
फायरिंग में क्षतिग्रस्त हुई गाड़ी।

बदायूं जिले में दबंग दमन दल होने के बावजूद जिले भर में दबंग पुलिस पर भारी नजर आ रहे हैं। पुलिस और कानून को किनारे कर स्वयं ही निर्णय लेते दिख रहे हैं, जिससे पुलिस की बड़ी फजीहत हो रही है। जिले भर में हाहाकार मच गया है।

बिनावर थाना क्षेत्र के गाँव ढकिया गौंटिया में एक दबंग के खेत में जानवर घुस गये, तो उसने किशोर सुमित यादव को पीट-पीट कर न सिर्फ मौत के घाट उतार दिया, बल्कि उसकी आँखें तक फोड़ देने की खबर है, इसके बावजूद पुलिस अभी तक दबंग आरोपी निहालुद्दीन आदि को पकड़ नहीं पाई है।

मूसाझाग थाना क्षेत्र में दो गुटों के बीच जमकर गोलीबारी हुई है। घटना की पृष्ठभूमि में बताया जाता है कि रूपपुर, महोरा नरेली और सरोरा नरेली एक ही ग्राम पंचायत थी। पिछले परिसीमन में रूपपुर अलग ग्राम पंचायत बना दी गई, जहाँ का प्रधान कामता मौर्य है एवं महोरा नरेली व सरोरा नरेली का प्रधान देवेन्द्र यादव है, इन दोनों के बीच चुनाव के समय से ही रंजिश है। बताते हैं कि रविवार को रूपपुर में लगने वाले बाजार में देवेन्द्र सब्जी खरीदने आया था, तभी कामता से विवाद हो गया, तो कामता ने कुछ लोगों की मदद से देवेन्द्र की पिटाई लगा दी, बाइक छीन ली और उस पर फायर भी किया, इस घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने देवेन्द्र आज थाने जा रहा था, तो रूपपुर से निकलते समय उसे कामता ने फिर घेर लिया और पीटने लगा, किसी तरह देवेन्द्र स्वयं को छुड़ा कर भाग गया, फिर कई सशत्र लोगों के साथ आया। कामता और उसके लोग भी सशस्त्र तैयार थे, तो दोनों गुटों के बीच फायरिंग शुरू हो गई। दोनों तरफ से काफी देर तक गोलीबारी हुई, लेकिन गोली किसी के नहीं लगी है। एक गाड़ी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। सूचना पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया और कई थानों की पुलिस मौके पर कूच कर दी गई। हालात अभी भी तनाव पूर्ण बने हुए हैं।

थाना सिविल लाइंस क्षेत्र के गाँव दबरई में पुष्पेन्द्र की पिछले दिनों गोली मार कर हत्या कर दी गई थी, उसकी पत्नी मीना पर चचिया ससुर देवर से शादी करने का दबाव बना रहा था, पर मीना ने मना कर दिया, इस पर मीना को मौत के घाट उतार दिया गया। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय भेज दिया है।

Leave a Reply