छात्राओं को दिए गये आत्मरक्षा के टिप्स और ट्रेनिंग

छात्रा को आत्मरक्षा के टिप्स देतीं ट्रेनर दीप्ती शंकर।
छात्रा को आत्मरक्षा के टिप्स देतीं ट्रेनर दीप्ती शंकर।

बदायूं स्थित ब्लूमिंगडेल स्कूल में छात्राओं को ‘स्व-रक्षा’ देने हेतु इनरव्हील संस्था की ओर से एक विषेश कार्यशाला का आयोजन किया गया। ट्रेनर दीप्ति शंकर के नेतृत्व में छात्राओं ने आत्मरक्षा को लेकर कई तरह के गुर सीखे, जो छात्राओं के बहुत काम आयेंगे।

इस अवसर पर ट्रेनर दीप्ती शंकर ने कहा कि सर्वप्रथम आत्मविश्वास जगाना होगा, जो आत्मनिर्भर होने से ही आयेगा। उन्होंने कक्षा 6 से 12 तक की समस्त छात्राओं को टिप्स दिए। उन्होंने छात्राओं को सिखाए गए सुरक्षा के उपायों एवं तरीकों के अवलोकनार्थ अनेक प्रकार के क्रियात्मक कार्य कराए। बालिकाओं ने अपनी जिज्ञासा के चलते अनेक प्रश्न पूछे, जिसके उन्होंने संतोषजनक उत्तर दिए।

ट्रेनर दीप्ती शंकर को सम्मानित हुए पम्मी मेंहदीरत्ता।
ट्रेनर दीप्ती शंकर को सम्मानित हुए पम्मी मेंहदीरत्ता।

इस मौके पर प्रधानाचार्या वन्दना सक्सेना ने कहा कि आज के समय में नारी जाति स्वयं को समाज में असुरक्षित महसूस करती है, इसलिए बालिकाओं को इस प्रकार की ट्रेनिंग की बेहद आवश्यकता है, ताकि वह आत्मनिर्भर बने व स्वयं की सुरक्षा कर सके। स्कूल अध्यक्षा पम्मी मेंहदीरत्ता ने इनरव्हील संस्था की कुशल ट्रेनर दीप्ति शंकर के कार्य व कदम की प्रशंसा करते हुए आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में इनरव्हील संस्था की सदस्य मीता, रीना, साधना रस्तोगी व सरोज रस्तोगी उपस्थित रहीं, साथ ही स्कूल निदेशक ज्योति मेंहदीरत्ता, ईषान मेंहदीरत्ता, अनीता धमीजा एवं नीविया आहूजा भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.