बिल्सी हाईवे पर लूट, मुकदमा दर्ज न कर बदमाशों की मदद कर रही पुलिस

लूट के शिकार युवक अवधेश कुमार और लोमश कुमार शर्मा।

बदायूं जिले में आपराधिक वारदातें रोकने में पुलिस असफल साबित हो रही है। घटना के बाद पुलिस मुकदमा भी दर्ज नहीं करती, जिससे अपरोक्ष रूप से पुलिस बदमाशों की मददगार ही साबित होती है। लूट के शिकार युवकों की पुलिस तहरीर तक लेने को तैयार नहीं है। सीमा विवाद में उलझा कर पीड़ितों को इधर-उधर दौड़ाया जा रहा है। पीड़ितों ने एडीजी से मुकदमा दर्ज करने की गुहार लगाई है।

घटना बिल्सी हाईवे की है। उघैती थाना क्षेत्र के गाँव बुद्ध नगर निवासी अवधेश कुमार और उघैती निवासी लोमश कुमार शर्मा 29 जुलाई को भारतीय स्टेट बैंक द्वारा आयोजित की गई बीसी की बैठक से लौट बाइक से वापस जा रहे थे। बिल्सी हाईवे पर गाँव गुराई से निकलते ही रात में करीब 8: 30 बजे बाइक सवार तीन बदमाश तेजी से आये और बराबर आकर चलते हुए उनकी बाइक की चाबी निकाल ली। बाइक रुकते ही बदमाशों ने युवकों की कनपटी से तमंचे सटा दिए और गोली मार देने की धमकी देते हुए सब कुछ छीन लिया। लोमश ने बताया कि उसके बीस हजार रूपये, मोबाईल, सोने की अंगूठी, लैपटॉप, एटीएम कार्ड, पासबुक, गाड़ी के कागज, हेलमेट वगैरह लूट लिया, साथ ही अवधेश के आठ हजार रूपये लूट कर बदमाश फरार हो गये। पीड़ितों ने रोड गश्त कर रही पुलिस को घटना के संबंध में बताया, तो पुलिस ने रूचि नहीं ली। युवक रात में घर चले गये। युवकों ने अगले दिन थाना सिविल लाइंस में आकर तहरीर दी, तो सिविल लाइंस थाना पुलिस ने घटना स्थल कोतवाली उझानी में बता कर टाल दिया।

उझानी कोतवाली पुलिस भी घटना स्थल अपने क्षेत्र में मानने को तैयार नहीं है। बदमाशों के सताये युवकों के साथ पुलिस भी फुटबॉल की तरह खेल रही है और अपरोक्ष रूप से बदमाशों की ही मदद कर रही है। पीड़ित युवकों ने एडीजी से मुकदमा दर्ज कर बदमाशों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कराने की गुहार लगाई है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply