कंट्री इन को बचाने को तहसीलदार ने रिपोर्ट निरस्त कर बनाई दूसरी टीम

कब्रिस्तान की भूमि कब्जा कर बनाया गया होटल कंट्री इन।

बदायूं में कब्रिस्तान की जमीन कब्जा कर बनाये गये होटल कंट्री इन के पक्ष में तहसीलदार ही खड़े नजर आ रहे हैं। पैमाइश में सिद्ध हो गया कि होटल कब्रिस्तान की जमीन कब्जा कर बना है, इसके बावजूद तहसीलदार ने कार्रवाई नहीं की, साथ ही जाँच रिपोर्ट निरस्त कर पुनः पैमाइश करने के लिए दूसरी टीम गठित कर दी, जिससे तमाम लोग आक्रोशित नजर आ रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि होटल कंट्री इन आरिफपुर नबादा के रकवे में कब्रिस्तान की जमीन कब्जा कर बनाया गया है। प्रदेश सरकार सरकारी भूमि से अवैध कब्जे हटाने को बेहद गंभीर है, इसीलिए सरकार ने एंटी भू-माफिया टास्क फोर्स बनाया है, लेकिन होटल कंट्री इन के मालिक के विरुद्ध शिकायत के बावजूद कार्रवाई नहीं की जा रही है। सपा नेता स्वाले चौधरी और अन्य तमाम लोगों ने होटल मालिक की शिकायत की, जिस पर तहसीलदार द्वारा कमेटी गठित की गई। कमेटी ने होटल कंट्री इन की जमीन की पैमाइश की। पैमाइश में कब्रिस्तान की जमीन कब्जाने की पुष्टि हो गई। टीम ने रिपोर्ट तहसीलदार को दे दी, पर कार्रवाई करने की जगह तहसीलदार ने रिपोर्ट दबा ली। शिकायतकर्ताओं ने कार्रवाई करने के लिए दबाव बनाया, तो कब्रिस्तान कब्जाने वाले की मांग पर ही तहसीलदार ने दूसरी टीम गठित कर दी, ताकि आरोपी पक्ष सांठ-गांठ कर रिपोर्ट बदलवा ले।

होटल कंट्री इन की पैमाइश करने को गठित की गई दूसरी टीम ने अभी तक मौका मुआयना भी नहीं किया है, जिससे तरह-तरह की बातें की जा रही हैं। भाजपा सरकार के कार्यकाल में कब्रिस्तान को लेकर तहसीलदार गंभीर नहीं है, उन्हें लगता है कि कब्रिस्तान के प्रकरण में वे किसी भी तरह के निर्णय लेंगे, तो कोई कुछ नहीं कहेगा, जबकि ऐसा नहीं है। प्रकरण शासन के संज्ञान में पहुंचा, तो तहसीलदार भी कार्रवाई के दायरे में आ सकते हैं।

उधर मुख्यालय पर होटल कंट्री इन को बचाने में जुटे तहसीलदार की भूमिका से आम जनता मायूस नजर आ रही है। लोगों को लगता था कि सोत नदी कब्जाने वाले, शहर से सटे गाँव नगला शर्की के तालाब और ग्राम समाज की भूमि कब्जाने वाले, दातागंज तिराहे पर प्राचीन तालाब चंदोखर के हत्यारे, कबूलपुरा का कब्रिस्तान कब्जाने वाले और नगर पालिका व वक्फ की अरबों की जमीन हथियाने वाले जेल जायेंगे, लेकिन अब जनता को लग रहा है कि किसी के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं होगी। होटल कंट्री इन को बचाने के कारण एंटी भू-माफिया टास्क फोर्स बनाने वाली भाजपा सरकार की जमकर फजीहत हो रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: कब्रिस्तान की जमीन कब्जा कर बना होटल कंट्री इन, टास्क फोर्स निष्क्रिय

पढ़ें: होटल कंट्री इन में निकली कब्रिस्तान की जमीन, तहसीलदार ने रिपोर्ट दबाई

Leave a Reply