भाजपा जिलाध्यक्ष पद के दावेदार ने भाजपाई को ही गरियाया

जिलाध्यक्ष पद के दावेदार हरीश शाक्य
जिलाध्यक्ष पद के दावेदार हरीश शाक्य

विचार, भाषा और व्यवहार की बात की जाती है, तो सर्व प्रथम भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का उल्लेख किया जाता है, लेकिन बदायूं में भाजपा जिलाध्यक्ष पद के प्रमुख दावेदारों से एक माने जा रहे हरीश शाक्य व भाजपा नेता डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा ने फोन पर एक-दूसरे को गली के गुंडों की तरह गरियाया। दोनों की बातचीत सुनने वाले लोग स्तब्ध हैं। ऑडियो सोशल साइट्स पर वायरल होने से अधिकांश लोग भाजपा नेताओं के वार्तालाप की कड़ी निंदा करते नजर आ रहे हैं।

डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा
डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा

पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह के नाम से वाट्सएप पर एक ग्रुप है, जिसमें जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों की हार को लेकर कल चर्चा होने लगी, तो डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा नाम के भाजपा नेता ने जिले के वर्तमान पार्टी नेतृत्व की कार्यप्रणाली को लेकर कुछ कमेन्ट कर दिए। वाट्सएप ग्रुप में हुई वार्ता को लेकर भाजपा के महामंत्री, संगठन प्रमुख और जिलाध्यक्ष पद के दावेदारों में से एक हरीश शाक्य ने डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा को फोन किया। डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा फोन रिसीव नहीं कर पाये। बाद में उन्होंने फोन किया, तो हरीश शाक्य ने गरियाना और धमकाना शुरू कर दिया। कुछ देर की वार्ता के बाद डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा का भी धैर्य जवाब दे गया और फिर वे भी गालियाँ देने लगे। दोनों के बीच कई मिनट तक बात हुई और एक-दूसरे को जमकर गालियाँ दी गईं। डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा ने बाद में गालियों का ऑडियो भी सोशल साइट्स पर शेयर कर दिया, जिसे सुनने वाले दंग हैं और एक-दूसरे से कहते सुने जा रहे हैं कि इस स्तर की बातचीत करने वाले लोग भाजपा में नहीं रहने चाहिए। सूत्रों का कहना है कि ऑडियो भाजपा के प्रांतीय नेतृत्व के पास पहुंच गया है, जिससे कार्रवाई भी हो सकती है।

ऑडियो सुनने के लिए लिंक क्लिक करें

हरीश शाक्य व डॉ. सुबोध कुमार मिश्रा के बीच हुई वार्ता का ऑडियो

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

Leave a Reply