भ्रष्टाचारियों को छोड़ा नहीं जायेगा: धर्मेन्द्र यादव

  • प्रदेश के समाज कल्याण विभाग के मंत्री अवधेश प्रसाद और सांसद धर्मेन्द्र यादव ने विधायकों के साथ तीन हजार से अधिक समाजवादी पेंशन योजना के लाभार्थियों को बांटे परिचय पत्र
महिला लाभार्थी को परिचय पत्र देते सांसद धर्मेन्द्र यादव व मंत्री अवधेश प्रसाद।
महिला लाभार्थी को परिचय पत्र देते सांसद धर्मेन्द्र यादव व मंत्री अवधेश प्रसाद।
भ्रष्टाचारियों को छोड़ा नहीं जायेगा। जिसके विरुद्ध शिकायत मिलेगी, उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कराई जायेगी। आज एक लेखपाल की शिकायत मिली, जिसे डीएम से निलंबित करने को कह दिया गया है। उक्त विचार बदायूं लोकसभा क्षेत्र के सांसद धर्मेन्द्र यादव ने बदायूं की मंडी समिति परिसर में आयोजित किये गये समाजवादी पेंशन योजना के परिचय पत्र वितरण शिविर में व्यक्त किये।
उन्होंने कहा कि किसानों और गरीबों, मजदूरों तथा बेसहारा लोगों को प्रदेश सरकार द्वारा निरन्तर राहत उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि जनपद में ऐसा कोई भी गरीब व्यक्ति नहीं बचेगा, जिसे समाजवादी पेंशन न मिले। उन्होंने कहा कि उनके संज्ञान में आया है कि कृषि निवेश अनुदान के अन्तर्गत कुछ लेखपाल हेरा-फेरी कर रहे हैं। ग्राम रिजौली के लेखपाल की शिकायत मिलने पर उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित भी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने कोई वायदा न करते हुए गरीबों, विधवाओं और बेसहाराओं को समाजवादी पेंशन योजना के तहत 40 लाख से अधिक लाभार्थियों को लाभान्वित किया जा रहा है।
अधिकाँश नेताओं ने खोल कर भी नहीं देखीं मंच पर रखी बोतलें।
अधिकाँश नेताओं ने खोल कर भी नहीं देखीं मंच पर रखी बोतलें।
प्रदेश के समाज कल्याण विभाग के मंत्री अवधेश प्रसाद ने कहा कि जनपद में 57 हजार 9 सौ 78 समाजवादी पेंशन योजना के लाभार्थी हैं, जिसमें प्रदेश स्तर से 51 हजार 9 सौ 65 लाभार्थियों के बैंक खातों में धनराशि भेजी जा चुकी है, जो गरीब, बेसहारा, समाजवादी पेंशन पाने से वंचित रहे गए हैं उन लोगों का चिन्हीकरण कर नए पात्र लाभार्थियों की सूची विभाग को अविलम्ब उपलब्ध करा दी जाए, तो 15 दिन में सभी नए लाभार्थियों के बैंक खातों में धनराशि भेज दी जाएगी।
जमीन पर पड़ी पानी की बोतलें।
जमीन पर पड़ी पानी की बोतलें।
अवधेश प्रसाद ने लाभार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आजादी के बाद से आज तक किसी भी सरकार ने इतनी बड़ी संख्या में गरीबों, बेसहारों को लाभान्वित नहीं किया है। प्रदेश सरकार ने समाजवादी पेंशन देकर यह साबित कर दिया कि गरीबों की ओर सरकार विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पेंशन योजनान्तर्गत फिलहाल 500 रूपए प्रतिमाह की दर से भुगतान किया जा रहा है और प्रति वर्ष पेंशन में 50 रूपए की वृद्धि भी होगी। उन्होंने कहा कि जिन लाभार्थियों को परिचय पत्र आज वितरित किए जा जा रहे हैं, उनको प्रदेश सरकार द्वारा एक करोड़ 80 लाख रूपए की धनराशि लाभार्थियों के खातों में भेज दी है। उन्होंने कहा कि यदि कोई नाबालिग बच्चा विकलांग, बेसहारा होगा, तो उसे भी समाजवादी पेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष में सरकार द्वारा समाजवादी पेंशन योजना का लक्ष्य 5 लाख और बढ़ा दिया गया है। लक्ष्य को दृष्टिगत रखते हुए जनपद में अभी भी ऐसे लाभार्थी हैं, जिनको समाजवादी पेंशन योजना का लाभ नहीं मिला है, जिस पर समाज कल्याण विभाग के मंत्री ने कहा कि नए लाभार्थियों की अविलम्ब उन्हें सूची उपलब्ध कराई जाए, 15 दिन के अन्दर सभी के बैंक खातों में धनराशि प्रदेश स्तर से भेज दी जाएगी।
धूप में खड़े टैंकर से पानी पीते लोग।
धूप में खड़े टैंकर से पानी पीते लोग।
विधान परिषद सदस्य बनवारी सिंह यादव, शहर विधायक आबिद रज़ा, सहसवान के विधायक ओमकार सिंह तथा शेखूपुर के विधायक आशीष यादव ने अपने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि समाजवादी पेंशन योजनान्तर्गत प्राप्त होने वाली धनराशि से पूर्ण गुजारा तो नहीं हो सकता, लेकिन राहत अवश्य मिलती है। जनपद में समाजवादी पेंशन योजना के लिए कोई भी पात्र लाभार्थी वंचित नहीं रहेगा। सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ग के लिए यह योजना शुरू की गई है। समाजवादी पेंशन ही नहीं, बल्कि बेरोजगारों को भत्ता छात्रों को लैपटॉप एवं छात्रवृत्ति, कन्याओं को कन्या विद्याधन, गरीबों को कम्बल आदि वितरण कर लाभान्वित किया गया है। मंत्री, सांसद सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने अल्प समय में इतना बड़ा कार्यक्रम कराने के लिए जिलाधिकारी शम्भूनाथ एवं मुख्य विकास अधिकारी देवेन्द्र सिंह कुशवाहा की प्रशंसा करते हुए बधाई दी और कहा कि जिलाधिकारी की लगन एवं परिश्रम से जनपद में कोई भी पात्र व्यक्ति समाजवादी पेंशन पाने से वंचित नहीं रहेगा। जिलाधिकारी ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि उनका निरन्तर प्रयास जारी है कि जनपद में कोई भी पात्र व्यक्ति समाजवादी पेंशन योजना का लाभ पाने से वंचित न रहे। कार्यक्रम में गुन्नौर क पूर्व विधायक प्रदीप कुमार उर्फ गुड्डू, हर प्रसाद सिंह पटेल, बलवीर सिंह यादव, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अशोक कुमार श्रीवास्तव, डीआरडीए के परियोजना निदेशक रामरक्ष पाल, आजीविका मिशन के उपायुक्त आरपी सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी एनके पाठक सहित उप जिलाधिकारीगण, खण्ड विकास अधिकारी एवं अन्य अधिकारी, स्थानीय निकायों के अधिशासी अधिकारी मौजूद रहे। यहाँ यह भी बता दें कि प्रशासन ने ऐसे महिला-पुरुषों को भी बुला लिया, जिनकी पेंशन अभी स्वीकृत नहीं हुई है, जिससे उन्हें परिचय पत्र नहीं दिए जा सके, ऐसे सैकड़ों महिला-पुरुष आक्रोशित नजर आये। इसके अलावा प्रशासन ने पानी पीने के लिए जनता के लिए टैंकर खड़े करवा रखे थे, जिस पर आम लोग जूझते नजर आये, वहीं वीवीआईपी वर्ग के लिए बोतल बंद पानी मुहैया कराया गया, जिससे मौके पर ही सिद्ध हो गया कि जनता के प्रति समान विचारधारा का भाव सिर्फ मंच पर कहने भर को ही है।

Leave a Reply