भ्रष्ट आबिद ही हैं गाय तस्कर, मुर्दाबाद कहते हुए पुतला फूंका

भ्रष्ट आबिद ही हैं गाय तस्कर, मुर्दाबाद कहते हुए पुतला फूंका
कचहरी चौराहे पर विधायक आबिद रजा का पुतला फूंकते आक्रोशित लोग।
कचहरी चौराहे पर विधायक आबिद रजा का पुतला फूंकते आक्रोशित लोग।

बदायूं सदर क्षेत्र के विधायक आबिद रजा को वर्षों आइना दिखाते रहे वसीम अहमद अंसारी ने एक बार फिर मोर्चा खोल दिया है। वसीम अहमद अंसारी के नेतृत्व में आज तमाम लोगों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए आबिद रजा का पुतला भी फूँका, इसके बाद उन्होंने आबिद रजा पर पत्रकार वार्ता में आक्रामक अंदाज में शाब्दिक हमला भी बोला।

समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष वसीम अहमद अंसारी ने पत्रकारों से बात करते हुए आक्रामक अंदाज में आबिद रजा पर हमला करते हुये कहा जिले भर में गोकशी आबिद रजा के संरक्षण में ही होती रही है। वसीम ने कहा कि मारे जा चुके नईम उर्फ राजा और फईम आबिद रजा के ही खास थे और यही दोनों जिले भर में गोकशी कराते रहे हैं। बोले- नईम और फहीम की हत्या आबिद रजा ने ही कराई है, इसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए।

वसीम ने कहा कि आबिद रजा ने सोत नदी के साथ जमीनों पर अवैध कब्जे किये हैं, जिससे आबिद रजा ने अपार संपत्ति अर्जित कर ली है। उन्होंने सरकार से आबिद रजा की संपत्ति की जांच कराने की मांग करते हुए कहा कि पांच लाख से भी कम हैसियत का आदमी पचास करोड़ से भी ज्यादा की संपत्ति का मालिक कैसे बन गया? उन्होंने कहा कि सोत नदी को कब्जा मुक्त कराने के लिए आंदोलन करेंगे और सोत नदी का सौंदर्यकरण कराने की मांग करेंगे।

वसीम ने कहा कि आबिद रजा की संपत्तियों की जांच के लिए न्यायालय में जनहित याचिका भी दायर करेंगे। बोले- अब शहर में गुंडई और दबंगई नहीं होने देंगे। पीड़ितों के साथ हो रहे अन्याय को रोकने के लिए गोली खानी पड़े, या मारनी पड़े, पर पीछे नहीं हटेंगे। बोले- आबिद रजा में दम है, तो उससे आकर टकराये, चाहे तो कुश्ती लड़ लें, वह हर तरह से तैयार हैं।

वसीम ने कहा कि जिले में विकास सिर्फ सांसद धर्मेन्द्र यादव की देन है, उनके कारण आज बदायूं की हर जगह चर्चा होती है, लेकिन आबिद रजा मनमानी करने के लिए जिले में अपनी सरकार चाहते हैं, यतीम और मजलूमों का शोषण कर अपना महल बनाना चाहते हैं, पर अब जनता जग गई है और आबिद की विधान सभा की सदस्यता निरस्त करने की मांग रही है, साथ ही कहा कि मुस्लिम समाज अब शोषण नहीं होने देगा।

पत्रकार वार्ता में जिला पंचायत सदस्य डॉ. शकील अहमद ने कहा कि मानसिक संतुलन खो चुके विधायक आबिद रजा को चार वर्षों से गाय और गंगा की याद क्यों नहीं आई? उन्होंने कहा कि जनता ने कीमती वोट देकर विधायक बनाया, लेकिन जनता से मिलते ही नहीं हैं। परेशान होकर जनता लौट जाती है। उन्होंने कहा कि आबिद ने सिर्फ गुंडई और अवैध वसूली की है। सोत नदी में मैरिज लॉन बना रहे हैं, जो ईओ ललतेश सक्सेना की निगरानी में बन रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि नगर पालिका परिषद के कार्यालय से कीमती फर्नीचर गायब कर दिया गया है। कब्रिस्तान पर भी आबिद ने कब्जा कर लिया है, साथ ही कहा कि विकास कार्यों के नाम पर आबिद ने सिर्फ कमीशनखोरी की है।

इससे पहले समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष वसीम अहमद अंसारी के नेतृत्व में तमाम लोगों ने कचहरी चौराहे पर आबिद रजा मुर्दाबाद… के जोरदार नारे लगाते हुए पुतला फूंका और जूते-चप्पलों से पुतले की मार भी लगाई। इस अवसर पर मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड के जिलाध्यक्ष स्वाले चौधरी और प्रभात अग्रवाल सहित तमाम लोग मौजूद रहे। यहाँ यह भी बता दें कि वसीम ने आबिद रजा का पुतला फूंकने की घोषणा सुबह ही कर दी थी, जिससे पुलिस-प्रशासन के अफसरों में अफरा-तफरी मची रही। अफसरों ने वसीम पर पुतला न फूंकने का दबाव भी बनाने का प्रयास किया, लेकिन आक्रोशित वसीम नहीं माने और उन्होंने न सिर्फ पुतला फूँका, बल्कि आबिद रजा के चेहरे से आदर्शवाद का फर्जी मुखौटा ही नोंच के फेंक दिया।

2 Responses to "भ्रष्ट आबिद ही हैं गाय तस्कर, मुर्दाबाद कहते हुए पुतला फूंका"

  1. Himanshu Gupta   August 5, 2016 at 10:11 PM

    Sahi kiya

    Reply
  2. Himanshu Gupta   August 5, 2016 at 10:12 PM

    ऐसे लोगों की वजह से हीं पार्टी की छवि ख़राब होती है

    Reply

Leave a Reply