कैबिनेट स्तर के मंत्री ने दी गोलियों से छलनी करने की धमकी

कैबिनेट स्तर के मंत्री ने दी गोलियों से छलनी करने की धमकी
बाहुबलि नेता प्रणव सिंह "चैंपियन"।
बाहुबलि नेता प्रणव सिंह “चैंपियन”।

                 किरन कांत

सुनो मेरी बात, मेरे क्षेत्र का आदमी यदि घबराया, तो जिसकी वजह से वो घबरायेगा, उसे मैं गोली मार दूंगा। खबरदार रहना प्रभाकर, इतनी गोली मारूंगा कि पोस्टमार्टम करने वाला डाक्टर भी छेद गिनते-गिनते थक जायेगा। उक्त वाक्य किसी फिल्म का डायलॉग नहीं, बल्कि हकीकत है।

जी हाँ, उत्तराखंड में हरिद्वार जिले के खानपुर विधान सभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक व कैबिनेट स्तर के दर्जा मंत्री बाहुबलि नेता प्रणव सिंह “चैंपियन” के शब्द हैं। विवादों में रहने वाले “चैंपियन” ने इस बार एक निजी कंपनी के जनरल मैनेजर को फोन पर धमकाया ही नहीं है, बल्कि खुल कर जान से मारने की धमकी दी है।

उत्तराखंड सरकार में दर्जा कैबिनेट मंत्री व खनिज विकास परिषद के अध्यक्ष प्रणव सिंह “चैंपियन” ने एक निजी कंपनी के मैनेजर से कहा है कि सुनो मेरी बात, मेरे क्षेत्र का आदमी यदि घबराया, तो जिसकी वजह से वो घबरायेगा, उसे मैं गोली मार दूंगा। खबरदार रहना प्रभाकर, इतनी गोली मारूंगा कि पोस्टमार्टम करने वाला डाक्टर भी छेद गिनते-गिनते थक जायेगा।

बाहुबलि नेता “चैंपियन” के कारनामों से पुलिस व सरकार भली-भांति परिचित है, लेकिन उनके विरुद्ध कोई बोलता तक नहीं। इस बार भी धमकी देने का वीडियो सामने आया है, लेकिन पीड़ित मैनेजर शिकायत करने को तैयार नहीं है। असलियत में “चैंपियन” कभी खुलेआम फायरिंग कर देते हैं, कभी मारपीट कर देते हैं, कभी लोगों को धमका देते हैं, लेकिन शासन व प्रशासन में पहुंच रखने वाले “चैंपियन” के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं होती, इसीलिए लोगों का विश्वास टूट गया है कि जब कार्रवाई ही नहीं होगी, तो शिकायत ही क्यूं करें। बताते हैं कि कंपनी का कोई कर्मचारी मैनेजर की शिकायत लेकर “चैंपियन” के पास गया था, जिस पर “चैंपियन” ने इस तरह की भाषा का प्रयोग किया है।

Leave a Reply